गजानन के 32 रूप हैं मंगलकारी अवतार


ज्तोतिष डेस्क : शास्त्रों में भगवान श्री गणेश के 32 मंगलकारी स्वरूप वर्णित हैं-
श्री बाल गणपति – छ: भुजाओं और लाल रंग का शरीर
श्री तरुण गणपति – आठ भुजाओं वाला रक्तवर्ण शरीर
श्री भक्त गणपति – चार भुजाओं वाला सफेद रंग का शरीर
श्री वीर गणपति – दस भुजाओं वाला रक्तवर्ण शरीर
श्री शक्ति गणपति – चार भुजाओं वाला सिंदूरी रंग का शरीर
श्री द्विज गणपति – चार भुजाधारी शुभ्रवर्ण शरीर
श्री सिद्धि गणपति – छ: भुजाधारी पिंगल वर्ण शरीर
श्री विघ्न गणपति – दस भुजाधारी सुनहरी शरीर
श्री उच्चिष्ठ गणपति – चार भुजाधारी नीले रंग का शरीर
श्री हेरंब गणपति – आठ भुजाधारी गौर वर्ण शरीर
श्री उद्ध गणपति – छ: भुजाधारी कनक यानि सोने के रंग का शरीर
श्री क्षिप्र गणपति – छ: भुजाधारी रक्तवर्ण शरीर
श्री लक्ष्मी गणपति – आठ भुजाधारी गौर वर्ण शरीर
श्री विजय गणपति – चार भुजाधारी रक्त वर्ण शरीर
श्री महागणपति – आठ भुजाधारी रक्त वर्ण शरीर
श्री नृत्त गणपति – छ: भुजाधारी रक्त वर्ण शरीर
श्री एकाक्षर गणपति – चार भुजाधारी रक्तवर्ण शरीर
श्री हरिद्रा गणपति – छ: भुजाधारी पीले रंग का शरीर
श्री त्र्यैक्ष गणपति – सुनहरे शरीर, तीन नेत्रों वाले चार भुजाधारी
श्री वर गणपति – छ: भुजाधारी रक्तवर्ण शरीर
श्री ढुण्डि गणपति – चार भुजाधारी रक्तवर्णी शरीर
श्री क्षिप्र प्रसाद गणपति – छ: भुजाधारी रक्ववर्णी, त्रिनेत्र धारी
श्री ऋण मोचन गणपति – चार भुजाधारी लालवस्त्र धारी
श्री एकदंत गणपति – छ: भुजाधारी श्याम वर्ण शरीरधारी
श्री सृष्टि गणपति – चार भुजाधारी, मूषक पर सवार रक्तवर्णी शरीरधारी
श्री द्विमुख गणपति – पीले वर्ण के चार भुजाधारी और दो मुख वाले
श्री उद्दण्ड गणपति – बारह भुजाधारी रक्तवर्णी शरीर वाले, हाथ में कुमुदनी और अमृत का पात्र होता है।
श्री संकष्ट हरण गणपति – चार भुजाधारी, रक्तवर्णी शरीर, हीरा जडि़त मुकूट पहने।
श्री दुर्गा गणपति – आठ भुजाधारी रक्तवर्णी और लाल वस्त्र पहने हुए।
श्री त्रिमुख गणपति – तीन मुख वाले, छ: भुजाधारी, रक्तवर्ण शरीरधारी
श्री योग गणपति – योगमुद्रा में विराजित, नीले वस्त्र पहने, चार भुजाधारी
श्री सिंह गणपति – श्वेत वर्णी आठ भुजाधारी, सिंह के मुख और हाथी की सूंड वाले

 

सभी बॉलीवुड तथा हॉलीवुड मूवीज को सबसे पहले फुल HD Quality में देखने के लिए यहाँ क्लिक करें