गाजियाबाद में कारोबारी के परिवार को बंधक बनाकर लूटपाट, विरोध करने पर पत्नी की हत्या

गाजियाबाद : बॉर्डर थाना क्षेत्र के बेहटा हाजीपुर गांव स्थित मेवात चौक के पास देर रात बदमाशों ने चार्जर कारोबारी के परिवार को बंधक बना कर पांच लाख रुपये लूट की घटना को अंजाम दिया। विरोध करने पर बदमाशों ने कारोबारी की पत्नी की गला दबाकर हत्या कर दी। जानकारी मिलने पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने घटनास्थल का मौका मुआयना किया। पुलिस आसपास लगे सीसीटीवी कैमरा को खंगाल कर बदमाशों की तलाश में जुटी है। मूल रूप से जानी मेरठ के एहने वाले आसिफ लोनी के बेहटा हाजीपुर गांव में पत्नी समरीन 34 बेटे आतिफ, उजमा, समरीन और तैमूर के साथ रहते हैं। शनिवार रात समरीन, उजमा प्रथम तल पर सो रहे थे। जबकि उनका साला जुनैद और बेटा आतिफ द्वितीय तल पर सोए हुए थे। देर रात घर में घुसे चार बदमाशों ने आसिफ को गनपॉइंट पर ले लिया। उनके बाद बदमाशों ने पत्नी ओर अन्य सदस्यों को भी बंधक बना लिया। विरोध करने पर बदमाशों ने समरीन गला दबा दिया। बदमाश घर से नकदी और जेवरात लूटकर फरार हो गए।

बदमाशों के जाने पर पीड़ित ने स्वयं को बंधन मुक्त कर पड़ोसियों को घटना की जानकारी दी। घटना की सूचना पुलिस को दी गई सूचना पर पहुंची पुलिस महिला को उपचार के लिए दिल्ली के जीटीबी अस्पताल लेकर पहुंची। जहां डॉक्टरों ने उन्हें जांच के बाद मृत घोषित कर दिया। जानकारी मिलने पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मौके पर पहुंचे उन्होंने क्षेत्राधिकारी राजकुमार पांडे और बॉर्डर थाना प्रभारी शैलेंद्र प्रताप सिंह को घटना से जल्द पर्दाफाश करने के निर्देश दिए। गौरतलब है कि दिल्ली से सटे नोएडा में भी अभी हाल में ही गौरव चंदेल नामक एक शख्स का शव मिला था। परिजनों का आरोप है कि बदमाशों ने लूटपाट के बाद उनकी हत्या की गई।