दाल-चावल खाने के ये 5 बेमिसाल फायदे जानकर हैरान होंगे आप…

- in स्वास्थ्य

शायद ही कोई भारतीय होगा जिसे दाल-चावल न पसंद हों। भारत में दाल-चावल काफी मशहूर पसंदीदा खाना माना जाता है। भारत के ज्यादातर हिस्सों में इसे खाया जाता है।

 दाल-चावल अपने आप में संपूर्भ भोजन होता है। इसे एक साल की उम्र के बच्चों से लेकर जवान और बूढ़े हर कोई खा सकता है। इसे बनाना काफी आसान होता है और ये बहुत कम वक्त में बन जाते हैं। हालांकि कुछ लोगों को लगता है कि दाल-चावल बोरिंग होते हैं, लेकिन ऐसे लोगों की भी कमी नहीं जो हर रोज़ दिन में कम से कम एक बार दाल-चावल जरूर खाते हैं।
दाल-चावल न सिर्फ स्वाद में अच्छे लगते हैं, बल्कि ये स्वास्थ्य के लिए भी काफी फायदेमंद होते हैं। आइये हम आपको बताते हैं दाल-चावल खाने से आपको क्या-क्या फायदे हो सकते हैं।
1) हाई-प्रोटीन फूड – शाकाहारी लोगों के लिए दाल प्रोटीन का बहुत अच्छा स्रोत है। वहीं चावल में भी प्रोटीन होते हैं। दाल और चावल में अलग-अलग प्रकार के प्रोटीन पाए जाते हैं। जब आप इन दोनों को मिवाकर खाते हैं तो ये एक हाई-प्रोटीन फूड हो जाता है। अगर आप रोज़ दाल चावल खाते हैं तो आपको अच्छा ख़ासा प्रोटीन इसी से मिल जाता है।
2) हाई-फाइबर – जो लोग सोचते हैं कि फाइबर सिर्फ सब्ज़ियों से मिलता है, उनके लिए ये जानकारी नई हो सकती है। न सिर्फ प्रोटीन, दाल और चावल में बहुत ज्यादा फाइबर भी होता है। फाइबर की हमारे शरीर को बहुत जरूरत होती है। फाइबर हमारे पाचन तंत्र को स्वस्थ रखता है, उसके काम में मदद पहुंचाता है। अगर आपको ब्लड शुगर की समस्या रहती है तो भी फाइबर आपके लिए जरूरी है। 
3) पचाने में आसान – आपने देखा होगा कि जब बच्चे खाना शुरू करते हैं तो उनको दाल-चावल खिलाया जाता है। या कोई बीमार होता है, किसी को पेट की कोई समस्या होती है तो उसे मूंग की दाल के साथ चावल खिलाए जाते हैं। दरअसल, दाल-चावल आपकी पाचन क्रिया को आराम देता है। इसमें पाए जाने वाले प्रोटीन आसानी से टूट जाते हैं, जिससे पाचन प्रक्रिया पर ज़ोर नहीं पड़ता।
4) ऐनर्जी दें – चावल में कार्बोहाइड्रेट पाया जाता है। कार्बोहाइड्रेट शरीर को ऐनर्जी देता है। जब आप चावल के साथ दाल मिलाकर खाते हैं तो आपको कार्बोहाइड्रेट और कई जरूरी विटामिन भी मिल जाते हैं।
5) वज़न कंट्रोल करने में मददगार – वज़न कंट्रोल करने के लिए अक्सर लोग चावल खाना बिल्कुल छोड़ देते हैं। जबकि ये सही नहीं है। आप कभी-कभी दाल के साथ चावल खा सकते हैं। दरअसल, दाल चावल खाने से पेट जल्दी भरा हुआ लगता है, ये आपका वज़न कंट्रोल करने में मदद करेंगे। कोशिश करें कि वाइट की जगह ब्राउन राइस खाएं।
6) संतुष्टि दे – खाना आपके लिए स्वास्थ्यकर तभी होता है जब वो आपको संतुष्टि दे। दाल-चावल बहुत आसानी से बनने वाला और आसानी से खाया जा सकने वाला खाना है। ये मुलायम और कम तीखा होता है। इसे खाने से संतुष्टि मिलती है।
दाल-चावल को और अधिक पौष्टिक और टेस्टी बनाने के लिए इनके साथ सलाद बनाकर खाएं। अगर आपको वज़न की कोई समस्या नहीं तो इसपर ऊपर से थोड़ा घी डालकर खाएं, इसका स्वाद कई गुना बढ़ जाएगा। आप थोड़ा अचार और पापड़ भी साथ ले सकते हैं।