पत्रकार की गिरफ्तारी पर राहुल गांधी ने कसा योगी और BJP पर तंज…

प्रशांत कनौजिया समेत दो अन्य पत्रकारों की गिरफ्तारी को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की आलोचना की है। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि पत्रकारों को रिहा किया जाना चाहिए। उन्होंने अपने बारे में फैलाये जाने वाले ‘दुष्प्रचार’ का हवाला देते हुए ट्वीट किया, “अगर मेरे खिलाफ आरएसएस-भाजपा प्रायोजित विषैले दुष्प्रचार चलाने और गलत रिपोर्ट देने के लिए पत्रकारों को जेल में डाला जाए तो ज्यादातर अखबारों और समाचार चैनलों को बड़े पैमाने पर कर्मचारियों की कमी का सामना करना पड़ सकता है।’

गांधी ने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री मूर्खतापूर्ण ढंग से व्यवहार कर रहे हैं। गिरफ्तार किए गए पत्रकारों को रिहा करने की जरूरत है।

बता दें कि प्रशांत कनौजिया की गिरफ्तारी को गैरकानूनी और असंवैधानिक बताते हुए उनकी पत्नी ने सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दाखिल किया था, जिसपर मंगलवार को सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट ने गिरफ्तार किए गए पत्रकार प्रशांत कनौजिया को मंगलवार को जमानत दे दी। कोर्ट ने कहा कि अवकाशकालीन पीठ ने कनौजिया को जमानत देते हुए कहा कि आजादी का अधिकार एक मौलिक अधिकार है और इससे समझौता नहीं किया जा सकता। पीठ ने कहा कि जमानत देने का यह मतलब नहीं है कि वह सोशल मीडिया पर डाले गए पत्रकार के ट्वीट्स या पोस्ट्स को सही ठहरा रही है।