बसंत पंचमी के दिन अपनी राशि के अनुसार ऐसे करें माँ सरस्वती की पूजा

माघ मास की शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि का दिन बसंत पंचमी का पर्व मनाते हैं। ऐसे में इस बार यह पर्व 29 जनवरी- 30 जनवरी दोनों दिन मनाया जाने वाला है। ऐसे में इस दिन ज्ञान की अधिष्ठात्री देवी सरस्वती का पूजन किया जाता है। अब आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि इस दिन आप राशि के अनुसार कैसे माँ का पूजन कर सकते हैं।

* मेष राशि के लोग वसंत पंचमी के दिन माता सरस्वती की आराधना करें और सरस्वती कवच का पाठ करें। इससे विद्या और बुद्धि की प्राप्ति होगी।

* वृषभ राशि के लोग माता सरस्वती की पूजा करें और उनको पीले रंग के चावल का भोग लगाएं। इससे घर पर खुशी का माहौल होगा।

* मिथुन राशि के लोग देवी सरस्वती की पूजा करने के बाद गायत्री मंत्र का जप करें। इससे घर में धन-धान्य की कमी नहीं होगी।

* कर्क राशि के लोग वसंत पंचमी के दिन माता की पूजा के बाद सफेद रंग का चंदन और सफेद फूल अर्पित करें। इससे ज्ञान की प्राप्ति होगी।

* सिंह राशि के लोग माता सरस्वती की पूजा के बाद खीर का भोग लगाएं या फिर पीले रंग की कोई मिठाई अर्पित करें। इससे नौकरी और व्यवसाय में आ रही समस्या दूर होगी।

* कन्या राशि के लोग वसंत पंचमी के दिन माता सरस्वती को सफेद रंग के फूल चढ़ाएं और सरस्वती मंत्र का जप करें। इससे लाभकारी फल मिलेगा।

* तुला राशि के लोग वसंत पंचमी के दिन माता कीपूजा करें और उनको सफेद चंदन लगाएं और उस चंदन को माथे पर भी लगा लें। इससे विशेष कृपा मिलेगी।

* वृश्चिक राशि के लोग सरस्वती मंत्र का जप करें। इससे आपकी बुद्धि का विकास होगा।

* धनु राशि के लोग माता सरस्वती की पूजा के साथ भगवान गणेश की भी पूजा करें। इससे आपके ज्ञान में वृद्धि होगी।

* मकर राशि के लोग वसंत पंचमी के दिन माता सरस्वती की पूजा करें और फिर 5 कुंवारी कन्याओं को पीले रंग के कपड़े और फल आदि भेंट करें। इससे हर जगह सफलता मिलेगी।

* कुंभ राशि के लोग जरूरतमंदों और गरीबों को अनाज दान में दें। इससे नकारात्मक ऊर्जा दूर होगी, और सफलता मिलेगी।

* मीन राशि के लोग माता सरस्वती की कृपा पाने के लिए सफेद चंदन की माला का 108 बार जप करें। इससे विद्या और बुद्धि मिलेगी।