भूटान में सम्मानित होंगे यूपी के दस ब्लॉगर और साहित्यकार

Krishna Kumar Yadavभूटान : उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद निवासी ब्लॉगर और साहित्यकार कृष्ण कुमार यादव को आगामी 15 से 18 जनवरी 2015 तक भूटान की राजधानी थिम्पू और सांस्कृतिक राजधानी पारो में आयोजित चतुर्थ ‘‘अंतरराष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन‘‘ के दौरान सर्वोच्च परिकल्पना सार्क शिखर सम्मान तथा अन्य जनपदों मसलन सुल्तानपुर के डॉ राम बहादुर मिश्र को परिकल्पना साहित्य भूषण सम्मान, बाराबंकी के एडवोकेट रणधीर सिंह सुमन व डॉ विनय दास को क्रमशः परिकल्पना सोशल मीडिया सम्मान और परिकल्पना कथा सम्मान, लखनऊ की कुसुम वर्मा को परिकल्पना लोक-संस्कृति सम्मान, बहराइच के डॉ अशोक गुलशन को परिकल्पना हिन्दी गौरव सम्मान, रायबरेली से सूर्य प्रसाद शर्मा को परिकल्पना साहित्य सम्मान तथा हैदरगढ के ओम प्रकाश जयंत व विष्णु कुमार शर्मा को क्रमशः को परिकल्पना साहित्य श्री सम्मान व परिकल्पना सृजन श्री सम्मान तथा उन्नाव के विश्वंभरनाथ अवस्थी को परिकल्पना नागरिक सम्मान प्रदान किए जाएँगे। यह सम्मान भूटान के प्रधान मंत्री शेरिंग तोबगे के कर कमलों से दिये जाएँगे तथा इस कार्यक्रम की अध्यक्षता रायल भूटान ऑफ यूनिवर्सिटी थिंपु के कुलपति पेमा थिनगे करेंगे। इस अवसर पर भूटान के तकनीकी शिक्षा संस्थान के वरिष्ठ प्राध्यापक श्री प्रोफ. थुबटें ग्यात्सो तथा गुणवत्ता आश्वासन और प्रत्यायन प्रभाग, प्रौढ़ एवं उच्चतर शिक्षा विभाग तथा शिक्षा मंत्रालय के मुख्य कार्यक्रम अधिकारी श्री एन बी रैका भी विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित रहेंगे। उक्त जानकारी ’परिकल्पना समय’ के प्रधान संपादक तथा ’अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन’ के संयोजक रवीन्द्र प्रभात ने दी।
प्रभात ने बताया कि इस अवसर पर हिन्दी ब्लाॅग एवं साहित्य को समृद्ध करने वाले विभिन्न देशों-भारत, नेपाल, भूटान, आस्ट्रेलिया तथा न्यूजीलैंड के भी लगभग दो दर्जन ब्लॉगरों और साहित्यकारों को भी सम्मानित किए जाएँगे। सम्मेलन के दौरान वैश्विक परिप्रेक्ष्य विशेषकर सार्क देशों में हिन्दी के पठन-पाठ्न, हिन्दी साहित्य के प्रचार-प्रसार, न्यू मीडिया के रूप में ब्लाॅगिंग के विभिन्न आयामों एवं बदलते दौर में सोशल मीडिया की भूमिका इत्यादि विषयों पर भी चर्चा होगी। सम्मेलन का मूल उद्देश्य दक्षिण एशिया में ब्लॉग के विकास हेतु पृष्ठभूमि तैयार करना,हिंदी-संस्कृति का प्रचार-प्रसार करना, भाषायी सौहार्द्रता एवं सांस्कृतिक अध्ययन-पर्यटन का अवसर उपलब्ध कराना आदि है। दिल्ली, लखनऊ, काठमांडू में आयोजन के बाद इस बार 15-18 जनवरी 2015 के दौरान भूटान मंे चतुर्थ अन्तर्राष्ट्रीय ब्लाॅगर सम्मेलन का आयोजन किया जायेगा। यहाँ अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉग सम्मलेन आयोजित करने के पीछे उद्देश्य है हिंदी संस्कृति को भूटानी संस्कृति के करीब लाना और हिंदी भाषा को यहाँ के वैश्विक वातावरण में प्रतिष्ठापित करना। अभी कुछ दिनों पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने अपनी भूटान यात्रा के दौरान भारत-भूटान के मध्य ऐतिहासिक व सांस्कृतिक संबंधों की चर्चा करते हुए परस्पर सद्भाव व सहयोग की बात कही थी। भूटान में आयोजित यह सम्मेलन भी उसी कड़ी को आगे बढ़ाने का प्रयास करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *