राजेंद्र कुमार तिवारी बने उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव

- in BREAKING NEWS, लखनऊ

लखनऊ : योगी सरकार ने राजेंद्र कुमार तिवारी को स्थायी रूप से मुख्य सचिव नियुक्त कर दिया है। अनूप चंद्र पांडेय के सेवानिवृत्त होने के बाद से राजेंद्र कुमार तिवारी कार्यवाहक मुख्य सचिव के रूप में कार्य कर रहे थे। अब उन्हें पूर्णकालिक मुख्य सचिव बना दिया गया है। राज्य सरकार की तरफ से इस संबंध में निर्देश जारी कर दिया गया है। योगी सरकार ने पिछले वर्ष अगस्त माह में अनूप चंद्र पांडेय के रिटायर होने के बाद मुख्य सचिव पद पर कार्यवाहक के तौर पर राजेंद्र कुमार तिवारी को नियुक्त किया था। कई महीनों के इंतजार के बाद आखिरकार शुक्रवार को यूपी को पूर्णकालिक मुख्य सचिव मिल गया। राजेंद्र कुमार तिवारी 1985 बैच के आईएएस अधिकारी हैं। गौरतलब है कि 31 अगस्त, 2019 को अनूप चंद्र पांडेय के रिटायर होने के बाद मुख्य सचिव की खोज शुरू हो गई थी। तब कार्यवाहक के तौर पर राजेंद्र कुमार तिवारी को जिम्मेदारी दी गई थी। हालांकि तभी से चल रही मुख्य सचिव बनने की रेस में वह ही प्रबल दावेदार माने जाते थे। अब तक वह मुख्य सचिव पद की कार्यवाहक जिम्मेदारी के साथ ही कृषि उत्पादन आयुक्त एवं अपर मुख्य सचिव उच्च शिक्षा का पद भी संभाल रहे थे।

राजेंद्र कुमार तिवारी आगरा के जिलाधिकारी भी रह चुके हैं। उत्तर प्रदेश सरके में राजेंद्र कुमार तिवारी कई महत्पूर्ण पदों पर रह चुके हैं। कार्यवाहक मुख्य सचिव के रूप में 31 अगस्त 2019 को पदभार ग्रहण करने वाले तिवारी 1985 बैच के आईएएस अधिकारी हैं। वह यूपी सरकार के महत्वपूर्ण पदों उच्च शिक्षा, माध्यमिक शिक्षा, श्रम, वाणिज्य कर, श्रम एवं सेवायोजन, आईटी एवं इलेक्ट्रानिक, गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव एवं सचिव तथा आयुक्त पद कार्य करने से पहले गोरखपुर के मंडलायुक्त और सुलतानपुर, मीरजापुर, आगरा के जिलाधिकारी के पद पर भी तैनात रहे हैं।