राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अम्बेडकर को दी श्रद्धांजलि

नयी दिल्ली : राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को संविधान निर्माता डॉ. भीम राव अम्बेडकर की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि दी। राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के अलावा भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह, बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती समेत कई गणमान्य लोगाें ने बाबासाहेब को श्रद्धांजलि दी। श्री कोविंद ने आज यहां बाबासाहेब डॉक्टर भीमराव अम्बेडकर की जयंती पर संसद भवन परिसर स्थित उनकी प्रतिमा पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए। राष्ट्रपति ने टि्वटर पर लिखा कि डॉ बी.आर. अांबेडकर की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि। वे राष्ट्र के प्रतीक-पुरुष व संविधान शिल्पी थे। वे जातिगत एवं अन्य पूवाग्रहों से मुक्त भारत के निर्माण के लिए आजीवन संघर्षरत रहे। वे एक ऐसा समाज चाहते थे जहाँ महिलाओं व कमजोर वर्गों को समान अधिकार प्राप्त हों।” श्री मोदी ने ट्वीट किया कि संविधान निर्माता और सामाजिक न्याय के प्रणेता बाबासाहेब डॉ. भीमराव अम्बेडकर को उनकी जयंती पर सादर नमन। जय भीम।” भाजपा अध्यक्ष ने ट्विटर पर लिखा कि बाबासाहेब आम्बेडकर जी के विचार और उनका व्यक्तित्व हम सबके लिए एक प्रेरणास्त्रोत हैं।

उन्होंने जीवन पर्यन्त सामाजिक अन्याय के खिलाफ संघर्ष किया और उनका यह संघर्ष सामाजिक समरसता के लिए था। बाबासाहेब ने एक सर्वसमावेशी संविधान दिया जिससे हर वर्ग का कल्याण सम्भव हो, उनको कोटि-कोटि नमन।” बसपा सुप्रीमो ने भी डॉ अम्बेडकर को श्रद्धांजलि देते हुए ट्विटर पर लिखा कि परमपूज्य बाबा साहेब डाॅ. भीमराव अम्बेडकर की जयन्ती पर श्रद्धा-सुमन अर्पित। देशवासियों व देश-दुनिया में फैले उनके करोड़ों अनुयाइयों को हार्दिक बधाई व शुभकामनायें एवं उनके आत्म-सम्मान व स्वाभिमान के मानवतावादी मूवमेन्ट के अधूरे कारवाँ को वोटों की शक्ति से मंजिल तक पहुंचाने का संकल्प। भारत के संविधान निर्माता, चिंतक, समाज सुधारक डॉ. अम्बेडकर का जन्म मध्य प्रदेश के महू में 14 अप्रैल 1891 को हुआ था। उनके पिता का नाम रामजी मालोजी सकपाल और माता का नाम भीमाबाई था।