व्हाइट हाउस में डोनाल्ड ट्रंप ने कहा- इस्राइल का सबसे अच्छा मित्र मैं हूं

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार फिर खुद को इस्राइल के सबसे करीब बताया है। ट्रंप ने कहा कि व्हाइट हाउस में इस्राइल का उनसे अच्छा कोई और मित्र नहीं है। ट्रंप ने फ्लोरिडा में अमेरिकी इस्राइली काउंसिल सम्मेलन में यहूदियों के लिए महत्वपूर्ण मामलों पर अपने रिकॉर्ड को रेखांकित किया। ट्रंप ने अपने संबोधन की शुरुआत में अमेरिकी विदेश नीति को बदलने, येरुशलम को इस्राइली राजधानी के तौर पर मान्यता देने और अमेरिकी दूतावास को तेल अवीव से स्थानांतरित करने के अपने फैसले का जिक्र किया। उन्होंने 2016 में अमेरिका के राष्ट्रपति पद के अपने चुनाव अभियान में यह वादा किया था।

ट्रंप ने कहा, ‘पूर्ववर्ती राष्ट्रपतियों ने दूतावास स्थानांतरित करने का वादा किया था, लेकिन मुझे लगता है कि उनका ऐसा करने का कभी कोई इरादा ही नहीं था। अन्य राष्ट्रपतियों के विपरीत मैंने अपना वादा पूरा किया।’