सावरकर की भूमिका न मानने वालों को खुलेआम पीटा जाए : उद्धव

- in राजनीति

नई दिल्ली : शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा है कि सावरकर को न मानने वालों को सबके सामने पीटा जाना चाहिए। उद्धव ने कहा कि वीर सावरकर का अपमान बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि कुछ समय पहले राहुल गांधी भी वीर सावरकर का अपमान कर चुके हैं। हाल ही में दिल्ली युनिवर्सिटी में सावरकर की प्रतिमा लगाए जाने को लेकर हुए विवाद के बाद उद्धव ठाकरे का ये बयान सामने आया है। ठाकरे ने कहा, वो लोग जो वीर सावरकर को नहीं मानते, उन्हें पब्लिक में पीटे जाने की जरूरत है। ताकि ये लोग सावरकर की भारत के स्वतंत्रता आंदोलन में भूमिका को समझ सकें। यहां तक कि राहुल गांधी भी पूर्व में सावरकर का अपमान कर चुके हैं।

बता दें कि सावरकर की स्वतंत्रता आंदोलन में भूमिका को लेकर इतिहास के जानकारों में कई मत रहे हैं। हाल ही में दिल्ली यूनिवर्सिटी के नॉर्थ कैंपस में रात के समय सावरकर, सुभाष चंद्र बोस और भगत सिंह की मूर्तियां एक साथ स्थापित कर दी गईं थी। छात्र संगठन एबीवीपी के डूसू अध्यक्ष शक्ति सिंह ने सोमवार देर रात इन तीनों मूर्तियों को लगाया था। सावरकर की मूर्ति लगाने का विरोध करते हुए एनएसयूआई नेता ने प्रतिमा के चेहरे पर कालिख पोतते हुए जूतों की माला पहनाई थी।