हमीरपुर में बाढ़ से 28 गांव जलमग्न, 427 परिवार बेघर

हमीरपुर : जिले में बेतवा और यमुना नदी में बाढ़ आने से 28 गांव पूरी तरह से जलमग्न हो गए हैं और अन्य 61 गांव इसकी चपेट में आ गए हैं। यहां 427 परिवारों के 2,052 लोग राहत शिविर में रहकर गुजर कर रहे हैं। मौदहा बांध के जेई ए.के. निरंजन ने रविवार को बताया कि उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले में बेतवा और यमुना नदी में भीषण बाढ़ में 28 गांव पूरी तरह से जलमग्न हो गए हैं जबकि अन्य 61 गांव पानी से घिरे हुए हैं। इन गांवों के 427 परिवारों के 2,052 लोग बेघर हो गए हैं और कुछेछा डिग्री कॉलेज में बनाए गए राहत शिविर में ठहरे हुए हैं।

इसके अलावा कुछ बेघर परिवार राठ तिराहा और डिग्गी पुल के ऊपर राजमार्ग के फुटपाथ पर बरसाती की पन्नी से आशियाना बनाए हैं। बेतवा नदी का जलस्तर 106.33 मीटर और यमुना नदी का जलस्तर 106.780 मीटर था, जो खतरे के निशान से ज्यादा है। हालांकि, दोनों नदियां धीरे-धीरे उतर रही हैं। जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने बताया कि राहत शिविरों में लोगों के बीच पर्याप्त मात्रा में राहत सामाग्री बांटी जा रही है। बाढ़ समाप्त होने पर नुकसान का आकलन करवा कर सभी पीड़ितों को सरकारी मदद दी जाएगी।