29 अप्रैल की सुबह 6 बजकर 10 मिनट पर खुलेंगे केदारनाथ धाम के कपाट

देहरादून : उत्तराखंड में केदारनाथ के कपाट खुलने की तारीख की घोषणा हो गई है. 11वें ज्योतिर्लिंग बाबा केदारनाथ धाम के कपाट 29 अप्रैल को मेष लग्न में प्रात: छह बजकर 10 मिनट पर भक्तों के लिए खोल दिए जाएंगे. बाबा केदार की उत्सव डोली 26 अप्रैल को ऊखीमठ स्थित पंचगद्दी स्थल ओंकारेश्वर मंदिर से केदारनाथ के लिए रवाना होगी. बद्रीनाथ धाम के कपाट केदारनाथ के कपाट खुलने के अगले दिन यानी 30 अप्रैल को खुलेंगे. रुद्रप्रयाग में आज (शुक्रवार) पंचगद्दी स्थल ओंकारेश्वर मंदिर में वेदपाठियों, हक-हकूकधारियों, बद्री-केदार मंदिर समिति के पदाधिकारियों और जिला प्रशासन की मौजूदगी में ज्योतिष गणना के बाद शुभ मुहूर्त निकाला गया. बद्री केदार मंदिर समिति के अध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल ने बताया कि 25 अप्रैल को ओंमकारेश्वर मंदिर में सबसे पहले भैरव पूजा होगी जिसके बाद 26 अप्रैल को बाबा केदार की पंचमुखी डोली ओंमकारेश्वर मंदिर से फाटा रात्री विश्राम के लिए रवाना होगी.

27 अप्रैल को यह डोली गौरी कुण्ड रात्रि प्रवास के बाद 28 की शाम को डोली केदारनाथ धाम पहुंचेगी. जिसके बाद 29 अप्रैल को मेष लग्न में सुबह छह बजकर 10 मिनट पर केदारनाथ धाम के कपाट छह महीने के लिए खोल दिए जाएंगे. बीते 29 जनवरी को टिहरी राजभवन से बद्रीनाथ के कपाट खुलने की तारीख का ऐलान हुआ था. आज केदारनाथ धाम के कपाट खुलने के बाद गंगोत्री और यमुनोत्री के कपाट खुलने की घोषणा बाकी है.