गैंगस्टर विकास दुबे पर कसा शिकंजा, कानपुर के बाद लखनऊ का भी मकान गिरेगा!

फाइल फोटो

कानपुर, 5 जुलाई, दस्तक (ब्यूरो): गैंगस्टर विकास दुबे के खिलाफ पुलिस का शिकंजा कसता जा रहा है। कानपुर के बाद विकास दुबे का अब लखनऊ स्थित घर भी गिरेगा। लखनऊ में कृष्णानगर के इंद्रलोक में विकास दुबे का घर स्थित है. एलडीए की टीम ने उसके घर का मुआयना किया है। बताया जा रहा है कि मकान को गिराने की प्रक्रिया पर काम जारी है। मालिकाना हक, नक्शा, दस्तावेज जांच की गई। लखनऊ विकास प्राधिकरण की शुरुआती जांच में विकास के मकान को लेकर काफी कुछ गड़बड़ मिला है।

लखनऊ विकास प्राधिकरण की टीम ने की जांच

फाइल फोटो

आठ पुलिसकर्मियों की शहादत के बाद मुख्य आरोपी गैंगस्टर विकास दुबे की तलाश जारी है। वहीं, दूसरी तरफ कानपुर प्रशासन ने विकास दुबे के बिठुर स्थित आवास को गिरा दिया गया है। घर गिराने के लिए विकास दुबे की उसी जेसीबी का इस्तेमाल किया गया है, जिसके जरिए पुलिस टीम को घेरा गया था। इसके अलावा प्रशासन, विकास दुबे की सारी पॉपर्टी अटैच करने की तैयारी कर रहा है। प्रशासन उसकी सभी संपत्तियों की जांच करेगा। साथ ही सभी बैंक अकाउंट्स भी सीज किए जाएंगे। विकास दुबे की तलाश में पुलिस की 20 टीमें अलग-अलग इलाकों में दबिश दे रही हैं। इन सभी इलाकों में विकास के परिवार वाले रहते हैं। नेपाल बॉर्डर पर भी अलर्ट जारी कर दिया गया है। विकास दुबे के फोटो चस्पा कर दिए गए हैं।

फाइल फोटो

विकास दुबे के खिलाफ पुलिस का कसा शिकंजा

इस बीच, कानपुर में एनकाउंटर की घटना के बाद चौबेपुर थाना शक के घेरे में आ गया है। अगर कोई भी पुलिसकर्मी विकास दुबे की मदद में संलिप्त पाया गया तो उसके खिलाफ़ हत्या का मुक़दमा दर्ज़ किया जाएगा। कानपुर आईजी मोहित अग्रवाल का कहना कि विकास दुबे के सभी संभावित ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है, और जल्द ही सफलता हासिल होगी। उन्होंने कहा कि अभी पूरा चौबेपुर थाना शक के घेरे में है। कितने पुलिसकर्मियों ने विकास दुबे से बात की, इस मामले की जांच चल रही है। मोहित अग्रवाल ने कहा कि अगर किसी पुलिसकर्मी की भूमिका सामने आई तो उसे किसी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा, उन पर पुलिसकर्मियों की हत्या करने के आरोप में कार्रवाई की जाएगी, 307 का मुक़दमा दर्ज़ किया जाएगा और बर्ख़ास्त भी होंगे।