अखिल भारतीय विज्ञान दल ने पर्यावरण सुरक्षा के लिए किया वृक्षारोपण

- in स्तम्भ

लखनऊ: अखिल भारतीय विज्ञान दल के नेतृत्व मे विज्ञान भारती तथा दुर्गा कला केंद्र लखनऊ के सहयोग से विश्व पर्यावरण दिवस का आयोजन किरणाज इण्टर कॉलेज , ग्राम – कल्ली पश्चिम, लखनऊ में किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि, पर्यावरणविद् तथा विज्ञान भारती के सचिव डा. मृदुल शुक्ला ने ग्राम वासियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि विगत 5 वर्षों से प्रत्येक वर्ष 5 जून को पौधारोपण का कार्यक्रम किया जा रहा है। जो अब ग्रामीण एरिया में लगभग 1000 पौधों को लगाकर एक हरित पट्टी के रुप में विकसित किया जा चुका है। उन्होंने ग्रामवासियों का अहवान किया कि अधिक से अधिक संख्या में पौधारोपण ही न किया जाए अपितु उसकी समुचित देखभाल एवं रखरखाव की जाए।

लगाए गए पौधों की देखभाल करना हम सब की जिम्मेदारी : डॉ मृदुल शुक्ल

श्रेयांश मंडलोई (प्रदेश संगठन मंत्री विज्ञान भारती) ने बताया कि विज्ञान भारती द्वरा पर्यावरण दिवस पूरे देश में मनाया जा रहा है। इस एरिया में भी अधिक से अधिक संख्या में लोगों में पर्यावरण के प्रति जागरुकता लायी जा रही है। डा.दीपलता गुप्ता (सामाजिक कार्यकर्ता) ने कहा कि विद्यालयों में विद्यार्थियों को जागरुक कर हम समाज में पर्यावरण जागरुकता की परपम्परा का प्रचार प्रसार कर ग्रीन भारत का निर्माण कर सकते है।
डा.सत्येन्द्र कुमार यादव रिसर्च को आर्डिनेटर, ने अपने विचार व्यक्त करते हुए बताया कि हमारे वातावरण के बढ़ते हुए तापमान का मुख्य कारण पेड़ो पौधों का कम होना है अतः अधिक से अधिक पौधे लगाए। संजय कुमार गुप्ता ने जैव-उर्वरक के बारे में ग्रामीणों को जानकारी देते हुए कहा कि खेतो  में ज्यादा से ज्यादा रासायनिक उर्वकों एवं कीटनाशकों के प्रयोग करने से हमारा वातावरण दूषित हो रहा है तथा इसके परिणाम स्वरुप हमें विभिन्नप्रकार की बिमारियों का सामना करना पड़ रहा है एवं ख्ोत के चारों तरफ पौधा लगाना चाहिए। कार्यक्रम में प्रतिभाग करते हुए लल्लन तिवारी (सहायक अध्यापक) ने विद्यार्थियों एवं ग्रामवासियों को पेड़ो के देखभाल के प्रति जागरुक किया। अन्य उपस्थित लोगों में श्रीमती मोनिका श्रीवास्तव, मुकेश चौरसिया, अतुल द्विवेदी (अध्यक्ष विश्व हिन्दू दल), रागिनी कैलाश, आदि ने प्रतिभाग किया । सभा के अध्यक्ष डा. अजय यादव ने सरोजनी नगर तहसील के अन्तर्गत ग्राम – कल्ली पश्चिम को ग्रीन वेल्ट के स्व में विकसित किया है। किरणजय इण्टर कालेज के प्रबंधक डॉ अजय यादव ने बताया की संन 2011 से ही डॉ मृदुल शुक्ल के निर्देशन मे कल्ली पच्छिम मे प्लांटेशन का कार्य चल रहा है अब लगभग एक ग्रीन बेल्ट का विकास हो चूका है ।