राज्यसभा में आयुर्वेद बिल पास

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह चीन से चल रहे विवाद पर आज राज्यसभा में देंगे बयान

नई दिल्ली : संसद के मानसून सत्र का आज तीसरा दिन है। राज्यसभा में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भारत चीन के बीच सीमा पर चल रहे विवाद को लेकर बयान देंगे। इससे पहले उन्होंने लोकसभा में चीन के साथ चल रहे गतिरोध पर बयान दिया था। राजनाथ सिंह ने इसकी पूरी जानकारी कल लोकसभा में दी। वहीं दोनों सदनों में विपक्ष मोदी सरकार के चीन के साथ हो रहे विवाद और नये बिलों को पास करवाने को लेकर सवाल उठा रहा है। आयुर्वेद शिक्षण और अनुसंधान संस्थान बिल राज्यसभा से पास राज्यसभा में आयुर्वेद बिल पास कर दिया गया।

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने आयुर्वेद बिल 2020 में शिक्षण और अनुसंधान संस्थान पर अपने इनपुट के लिए सांसदों का धन्यवाद किया। उनका कहना है कि आधुनिक चिकित्सा के डॉक्टर होने के बावजूद वे आयुर्वेद और अन्य पारंपरिक चिकित्सा के लिए सराहना करते हैं। राज्यसभा में अन्नाद्रमुक सांसद एम थंबीदुरई ने कहा कि सिद्ध भी एक महत्वपूर्ण चिकित्सा प्रणाली है और केंद्र से अनुरोध किया कि तमिलनाडु में राष्ट्रीय सिद्ध संस्थान को राष्ट्रीय महत्व का दर्जा दिया जाए। कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने चीन से चल रहे तनाव के मुद्दे पर लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव को नोटिस दिया है। संसद के मानसून सत्र के तीसरे दिन राज्य सभा में कोविड संकट पर चर्चा होने की उम्मीद है। गृह मंत्रालय ने आज राज्यसभा को बताया कि छह महीने में भारत-चीन सीमा पर कोई घुसपैठ नहीं हुई है, यहां तक ​​कि लद्दाख में भी दोनों देशों के बीच गतिरोध जारी है। शिवसेना सांसद संजय राउत और केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी, मुख्तार अब्बास नकवी संसद पहुंचे। राज्यसभा की कार्यवाही का आज तीसरा दिन है।

भारत चीन सीमा विवाद पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह राज्यसभा में देंगे बयान आज मॉनसून सत्र का आज तीसरा दिन है। वहीं दूसरी तरफ मानसून सत्र के पहले दिन राज्यसभा में सरकार ने पांच बिल पेश किए। जिसमें मंत्रियों के पारिश्रमिक में कमी और महामारी में स्वास्थ्य सुरक्षा शामिल है। सत्र के दौरान दो सदनों में बिना किसी बदलाव के केवल कोरोना निगेटिव सांसदों को ही सदन में बुलाया जा रहा है। मंगलवार को राज्यसभा में सुबह की शिफ्ट में नौ बजे से दोपहर एक बजे तक और शाम की शिफ्ट में लोकसभा की कार्यवाही चली थी।