बसपा किसी के हाथ का खिलौना नहीं: मायावती

लखनऊ: कांग्रेस द्वारा लगाए जा रहे आरोप पर बसपा सुप्रीमो मायावती ने पलटवार किया है। उन्होंने दो टूक चेतावनी देते हुए कहा कि बसपा किसी भी पार्टी के हाथ का खिलौना नहीं है। साथ ही ये भी कहा कि हमारी पार्टी एक नेशनल पार्टी है जो डॉ. अंबेडकर की विचारधारा के साथ समाज के दबे, कुचले और निचले तबके के लिए काम करती है।

मायावती ने कहा कि जब केंद्र में कांग्रेस होती है तो भाजपा के लोग कहते हैं कि हमारी पार्टी कांग्रेस के हाथ का खिलौना है और जब भाजपा सत्ता में होती है तो कांग्रेस वाले कहते हैं कि बसपा, भाजपा के हाथ का खिलौना है। मैं दोनों पार्टियों को बता देना चाहती हूं कि बसपा किसी भी पार्टी के हाथ का खिलौना नहीं है। बसपा स्वतंत्र और नेशनल पार्टी है। जिन लोगों के हित में यह पार्टी बनी है उनके हित के लिए कार्य कर रही है।

जहां तक समर्थन की बात है तो मैं बता देना चाहती हूं कि देश हित में जिस भी पार्टी ने सही फैसला लिया है हमने हमेशा उस पार्टी का साथ दिया है, फिर वह कांग्रेस हो या फिर भाजपा। गौरतलब है कि मायावती ने केंद्र सरकार की कई बातों का समर्थन खुले मंच से किया है। जममू कश्मीर से धारा-370 हटाने का फैसला हो या फिर अब चीन के खिलाफ केंद्र का समर्थन। मायावती के इसी समर्थन की वजह से कांग्रेस आरोप लगा रही है कि मायावती, भाजपा की प्रवक्ता की तरह काम कर रही हैं।