डीआरडीओ ने किया लेजर गाइडेड एंटी टैंक मिसाइल का परीक्षण

नई दिल्ली : डीआरडीओ (रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन) ने एमबीटी अर्जुन टैंक से लेजर गाइडेड एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल (एटीजीएम) का सफल परीक्षण किया है। डीआरडीओ के मुताबिक कई-प्लेटफ़ॉर्म लांच क्षमता के साथ इसे विकसित किया गया है और वर्तमान में एमबीटी अर्जुन में लगी बंदूक से फयर कर इसका तकनीकी मूल्यांकन किया जा रहा है।

डीआरडीओ ने बताया कि सफल परीक्षण से यह पता चला है कि यह मिसाइल तीन किलोमीटर तक बैठे टागरेट को अपना निशाना बना सकती है। ये कई सारे प्लेटफॉर्म लॉन्च क्षमता के साथ विकसित किया गया है। मौजूदा समय में एमबीटी अर्जुन की एक बंदूक से तकनीकी मूल्यांकन के परीक्षणों से गुजर रहा है। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि अहमदनगर में केके रेंज (एसीसी एंड एस) में एमबीटी अर्जुन से लेजर गाइडेड एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण के लिए डीआरडीओ को बधाई, भारत को डीआरडीओ पर गर्व है, जो निकट भविष्य में आयात निर्भरता को कम करने की दिशा में काम कर रहा है।