अगस्त में इस टीम के खिलाफ टी20 सीरीज खेल सकती हैं इंडियन टीम

- in खेल

नई दिल्ली: कोविड-19 महामारी के कारण पैदा हुई स्थिति में सुधार होने के बाद भारत और दक्षिण अफ्रीका पूर्व समझौते के तहत अगस्त के आखिर में तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों की सीरीज खेल सकते हैं। अभी इस सीरीज का कार्यक्रम अगस्त के आखिर में तय है। भारत को मार्च में साउथ अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज खेलनी थी, लेकिन वो सीरीज कोरोना वायरस के कारण स्थगित करनी पड़ी थी।

क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (सीएसए) के कार्यवाहक मुख्य कार्यकारी जॉक फॉल ने कहा कि भारतीय क्रिकेट बोर्ड और सीएसए को बाद की तिथियों में भी इसके आयोजन में आपत्ति नहीं है। फॉल ने गुरुवार को कहा कि भारत अपने समझौते का सम्मान करना चाहता है। अगर यह सीरीज स्थगित होती है तो इसे बाद में आयोजित किया जा सकता है। बीसीसीआइ का इस द्विपक्षीय सीरीज पर सहमत होने के का मतलब है कि अगर अक्टूबर-नवंबर में टी-20 विश्व कप के बजाय इंडियन प्रीमियर लीग (आइपीएल) का आयोजन करने के प्रयास किये जाते हैं तो उसे सीएसए का समर्थन मिलेगा।

सीएसए अधिकारी ने कहा कि हमारी उनसे (बीसीसीआइ) बातचीत बहुत अच्छी रही। यह सीरीज भारत और दक्षिण अफ्रीका दोनों देशों की सरकार की मंजूरी पर निर्भर होगी। फॉल ने कहा कि उन्होंने दक्षिण अफ्रीकी सरकार से मंजूरी लेने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट बोर्ड ने बताया कि वह इस सीरीज के लिए नई तारीखें तय करने में जुटा है। इस टूर से पहले दक्षिण अफ्रीका को वेस्टइंडीज का दौरान करना है।

भारत से सीरीज के लिए उसे वेस्टइंडीज टूर की तारीखों से तालमेल बिठाना होगा। इससे पहले दक्षिण अफ्रीका की टीम को वनडे सीरीज के लिए श्रीलंका का दौरा भी करना था, जिसे वह पहले ही टाल चुका है। दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट बोर्ड के निदेशक ग्रीम स्मिथ ने बताया कि अफ्रीकी क्रिकेट बोर्ड इस सीरीज के लिए लगातार बीसीसीआइ के संपर्क में है। स्मिथ ने बताया कि हम उनसे बात कर चुके हैं और तीन टी-20 मैचों की सीरीज खेलने के लिए उन्होंने हामी भरी है।

पूर्व दक्षिण अफ्रीकी कप्तान ने कहा कि इस टूर को लेकर थोड़ी-बहुत हां-ना की स्थिति रहेगी, क्योंकि कोई नहीं जानता कि अगस्त के अंत तक चीजें कैसी रहेंगी।वहीं, बीसीसीआई के एक अधिकारी ने गोपनीयता की शर्त पर कहा कि सरकार से मंजूरी मिलने के बाद ही इस सीरीज की संभावना है। उन्होंने कहा कि पहले हमें खिलाड़ियों को ग्रीन जोन में अनुकूलन शिविर में रखना होगा। निश्चित तौर पर अगर चीजें सही रास्ते पर आगे बढ़ती हैं तो हम दक्षिण अफ्रीका में खेलेंगे।