अगस्त महीने में मनायी जायेगी जन्माष्टमी, गणेश चतुर्थी व हरितालिका तीज

आजादी के पर्व का भी रहेगा उल्लास


ज्योतिष : 3 अगस्त 2020 को सावन महीना समाप्त हो रहा है, इसी दिन रक्षाबंधन भी है। अगस्त महीने में कई अहम तीज और त्योहार आ रहे हैं। इनमें जन्माष्टमी और गणेश चतुर्थी अहम हैं। गणेश चतुर्थी के बाद ही हरतालिका तीज आएगी। इसके अलावा इसी महीने कजरी तीज, संकष्टी चतुर्थी भी मनाई जाएगी। हालांकि इस बार सभी तीज त्योहारों के उत्साह पर कोरोना संक्रमण की मार पड़ी है। कहीं भी भीड़ जमा नहीं हो सकेगी। लोगों से यही अपील की जा रही है कि वे घरों में रहकर ही उत्सव बनाएं।

भाई बहन के प्यार का दिन रक्षाबंधन 3 अगस्त, सोमवार को मनाया जाएगा। इस दिन बहन अपने भाई की दीर्घायु और स्वस्थ जीवन की कामना के लिए उन्हें राखी बांधती है। भाई भी बहन को रक्षा का वचन देता है। इसी दिन श्रावणी कर्म के माध्यम से ब्राह्मण जनेऊ बदलते हैं। वहीं श्री कृष्ण का जन्मदिन 12 अगस्त को मनाई जाएगी। जगह-जगह मटकी फोड़ आयोजन होते हैं। मंदिरों में श्री कृष्ण जन्मोत्सव मनाया जाता है।

पुराणों के अनुसार भगवान श्री कृष्ण का जन्म भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी को रोहिणी नक्षत्र में मध्य रात्रि के समय हुआ था। उधर, देश की आजादी का पर्व 15 अगस्त को मनाया जाएगा। कोरोना संक्रमण के कारण इस जश्न पर भी असर पड़ेगा।

सरकार गाइडलाइन जारी कर कह चुकी है कि किस तरह नियमों का पालन करते हुए स्वतंत्रता दिवस मनाना है। महिलाओं के लिए महत्वपूर्ण और कठिन व्रत हरतालिका तीज का त्योहार भाद्रपद मास की तृतीया को मनाया जाएगा।

इस बार 21 अगस्त को महिलाएं और लड़कियां पूरे दिन निर्जल रह कर सौभाग्यवती रहने का वरदान मांगती हैं।

गणपति बप्पा का जन्मदिन इस साल 22 अगस्त, शनिवार को मनाया जाएगा। शास्त्रों के अनुसार, प्रथमपूज्य गणेश का जन्म भादप्रद माह के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को हुआ था। गणेश मंदिरों को तो सजाया ही जाएगा, जगह-जगह गणेश प्रतिमाएं स्थापित की जाएंगी। गौरतलब है कि गणेश चतुर्थी महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश समेत पूरे भारत में हर्ष व उल्लास से मनाया जाता है।