किसी भी खिलाड़ी को इंग्लैंड दौरे पर जाने के लिए मजबूर नहीं किया जाएगा: जेसन होल्डर

- in खेल

लंदन: कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से पूरी दुनिया में खेलों के आयोजन पर रोक लगा दी गई थी। अब हालात धीरे धीरे सामान्य हो रहे हैं और क्रिकेट सीरीज खेलने के लिए टीमें तैयार हो रही है। वेस्टइंडीज को अगले महीने इंग्लैंड का दौरा करना है और इसके लिए बोर्ड ने जाने की घोषणा कर दी है। इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड भी विंडीज टीम की मेजबानी करने के लिए तैयार है।

कोरोना महामारी के फैलने के बाद वेस्टइंडीज की टीम अपने पहले विदेशी दौरे के लिए तैयार है। वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड ने इस बात की पुष्टी कर दी है कि उनकी टीम पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक ही इंग्लैंड के दौरा जाएगी। इसको लेकर इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड की तरफ से भी हामी भर दी गई है।

वेस्टइंडीज के कप्तान जेसन होल्डर ने कहा है कि वह कोविड-19 महामारी के बीच अपने खिलाडि़यो को तीन टेस्ट मैचों के इंग्लैंड के दौरे पर जाने के लिए बाध्य नहीं करेंगे।

वेस्टइंडीज को पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार चार जून से इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज खेली थी लेकिन कोरोना के कारण इस सीरीज को स्थगित करना पड़ा। इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) को हालांकि उम्मीद है कि वे जुलाई में इस सीरीज को आयोजित करके अपना सत्र शुरू कर सकते हैं।

होल्डर ने कहा कि कोई भी कदम उठाने हुए प्रत्येक खिलाड़ी को सहज होना चाहिए। उन्होंने कहा कि मेरे नजरिए से देखा जाए तो निश्चित तौर पर मैं किसी को भी कहीं भी जाने के लिए बाध्य नहीं करूंगा।

पाकिस्तान भी करेगा इंग्लैंड का दौरा 

कोविड 19 फैलने के बाद पाकिस्तान की टीम भी अपने पहले दौरे पर इंग्लैंड ही जाएगी। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने तीन टेस्ट और तीन टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों के लिए जुलाई में इंग्लैंड दौरे को मंजूरी दे दी। हाल ही में वनडे टीम की कप्तानी संभालने वाले बाबर आजम का बतौर कप्तान यह पहला विदेशी दौरा होगा।