पाकिस्तानी खिलाड़ियों को अब साल में चार बार कराना होगा रक्त और नेत्र परीक्षण…

- in खेल

नई दिल्लीः पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) का चिकित्सा पैनल कोविड-19 महामारी के बाद क्रिकेट गतिविधियां फिर से शुरू होने पर खिलाड़ियों के लिए साल में चार बार रक्त और नेत्र परीक्षण अनिवार्य करने की योजना बना रहा है। पीसीबी के चिकित्सा पैनल के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि अभी अनुबंधित खिलाड़ियों को प्रत्येक छह महीने में रक्त और नेत्र परीक्षण करवाना पड़ता है।

उन्होंने कहा कि लेकिन कोरोना वायरस के कारण बदली परिस्थितियों को देखते हुए हम 12 महीनों में चार बार परीक्षण शुरू करने की योजना बना रहे हैं। अधिकारी ने कहा कि खिलाड़ियों के लिए रक्त और नेत्र परीक्षण करवाना अनिवार्य होगा। उन्होंने कहा कि रक्त परीक्षण स्वास्थ्य कारणों से किया जाएगा, जबकि क्रिकेट के खेल में आंखों की रोशनी अहम भूमिका निभाती है।