पीएफए ने मोर सहित 119 पक्षियों के शिकार की दर्ज करायी एफआईआर

जयपुर : राजस्थान में पर्यावरण एवं वन्यजीव संरक्षण संस्था पीपुल फार एनीमल्स (पीएफए) की प्रदेश इकाई ने राष्ट्रीय पक्षी मोर सहित 119 पक्षियों के शिकार करने के खिलाफ विभिन्न जिलों में मामले दर्ज कराये है।

पीएफए के प्रदेश प्रभारी बाबूलाल जाजू ने गत दिनों धोलपुर के मनियां क्षेत्र में आठ मोर, टोंक जिले के मालपुरा तहसील के लाम्बाहरिसिंह पंचायत में दो मोर एवं बूंदी जिले के हिंडोली क्षेत्र के मेंडी में 109 कबूतरों के शिकार की घटना की प्राथमिकियां धोलपुर, टोंक एवं बूंदी के पुलिस अधीक्ष को ई-मेल एवं रजिस्टर्ड डाक से दर्ज कराते हुए पक्षियों के हत्यारों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की।

श्री जाजू ने बताया कि वन एवं पुलिस विभाग द्वारा वन्यजीव संरक्षण अधिनियम के तहत कठोर कार्रवाई नहीं किये जाने और न्यायालय में ठोस पैरवी नहीं किये जाने से शिकारियों की आसानी से जमानत हो जाती है जिससे आये दिन परिंदो के शिकार की घटनाएं घटित हो रही है जो शर्मनाक है।