बाके बिहारी के भक्तों को अभी और करना होगा इंतजार

फाइल फोटो

31 जुलाई तक नहीं खुलेंगे मंदिरों के पट

लखनऊ/मथुरा, 30 जून, दस्तक (ब्यूरो): गृहमंत्रालय से अनलॉक 2 की नई गाइडलाइन जारी होने के बाद यूपी में अपने प्रभु के दर्शनों की आस लगाए बैठे भक्तों को कुछ और इंतजार करना होगा। मंदिर प्रबंधकों ने 31 जुलाई तक मंदिरों के पट बंद रखने का फैसला लिया है। मंगलवार को देर शाम बांके बिहारी मंदिर प्रबंधक मुनीष कुमार शर्मा की ओर पत्र भी जारी कर दिया गया है। मंदिर के कर्ताधर्ताओं का कहना है कि गुरु पूर्णिमा पर आने वाले श्रद्धालुओं की भीड़ को बिना जिला प्रशासन के सहयोग के नियंत्रित कर पाना संभव नहीं होगा। साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन भी सुनिश्चित नहीं हो सकेगा। ऐसे में जिला प्रशासन के सहयोग के बिना मंदिरों को आम भक्तों के लिए खोला जाना संभव नहीं है।

31 जुलाई तक बंद रहेंगे सप्तदेवालय, होंगे ऑनलाइन दर्शन

फाइल फोटो

वहीं प्राचीन सप्तदेवालयों में से 6 देवालयों ने कोरोना महामारी के चलते मंदिरों के पट 31 जुलाई तक आम दर्शनार्थियों के लिए बंद रखने का निर्णय लिया है। ऑनलाइन बैठक में ठा. राधादामोदर मंदिर, राधामदनमोहन मंदिर, राधागोविंददेव मंदिर, राधागोपीनाथ मंदिर, राधाश्यामसुंदर मंदिर एवं राधागोकुलानंद मंदिर के आचार्य, महंत एवं सेवायत गोस्वामियों ने एक मत से निर्णय लिया कि देश में निरंतर तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामलों को देखते हुए देशहित एवं जनहित में मंदिरों के पट आम दर्शनार्थियों के लिए 31 जुलाई तक बंद रखे जाएं। बताया कि इस दौरान मंदिर में सेवा, पूजा, आरती, भोगराग सेवा सेवायत गोस्वामियों द्वारा विधिवत एवं परंपरागत रूप से निरंतर जारी रहेगी। ठाकुरजी के श्रीविग्रह के दैनिक दर्शन, आरती दर्शन आदि ऑनलाइन मंदिर की वेबसाइट, फेसबुक, व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम और यूट्यूब आदि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर भक्त कर सकेंगे।