राम मंदिर के चबूतरे की ऊंचाई को लेकर है मतभेद: वेदांती

लखनऊ: पूर्व सांसद एवं रामजन्म भूमि आन्दोलन के प्रमुख लोगों में गिने जाने वाले रामविलास वेदांती ने जन्मभूमि ट्रस्ट से मतभेदों की खबरों के बीच कहा है कि वे ट्रस्ट की कार्यप्रणाली से पूरी तरह संतुष्ट हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि मंदिर में चबूतरे की ऊंचाई को लेकर हमारा कुछ मतभेद है। अभी तक जो डिजाइन है, उसमें चबूतरा बहुत कम ऊंचाई का है। हम चाहते हैं कि श्री रामजन्म भूमि पर सबसे ऊंचा और सबसे भव्य मंदिर बनाया जाए। जिसके लिए चबूतरे को ऊंचा बनाया जाए। मंदिर की ऊंचाई बढाई जाएगी।

गुरुवार को सीबीआई की विशेष अदालत के बाहर संवाददाताओं से बातचीत में पूर्व सांसद रामविलास वेदांती ने कहा कि यह श्री राम का प्रभाव है कि पहले अटल बिहारी वाजपेई की सरकार बनी थी, फिर नरेंद्र मोदी की सरकार बनी फिर योगी आदित्यनाथ की सरकार बनी और फिर से नरेंद्र मोदी की सरकार बन गई। इसलिए सरकारों को दुनिया का सबसे भव्य मदिर बनाने में सभी अवरोधों को दूर करना चाहिए।