UP में स्कूल वाहनों की नियमावली में जल्द होंगे नए बदलाव

प्रतीकात्मक फोटो

लखनऊ: परिवहन विभाग बच्चों को लाने और ले जाने वाले स्कूल वाहनों की नियमावली में जल्द नए बदलाव करने की तैयारी में है। फिलहाल सभी स्कूल और कॉलेज 31 अगस्त तक बंद हैं। अपर परिवहन आयुक्त अरविंद पांडेय ने बुधवार को बताया कि आने वाले दिनों में स्कूल खुलने के बाद बच्चों को सुरक्षित लाने और ले जाने के ​लिए परिवहन विभाग तैयारियां कर रहा है। लॉकडाउन के दौरान मोटरवाहन से जुड़े कई प्रस्ताव उत्तर शासन को भेजे गए हैं। स्कूल वाहनों की सीट बेल्ट से जुड़े मामलों पर शासन स्तर पर विचार विमर्श हो गया है लेकिन नियमावली के बदलाव पर फैसला होना अभी बाकी है।

उन्होंने बताया कि स्कूल वाहनों की नियमावली में बदलाव के लिए जो प्रस्ताव भेजे गए हैं उनमें हर सीट पर सीट बेल्ट की अनिवार्यता समाप्त करना, मेडिकल जांच के बाद ही वाहन चालकों को ड्यूटी करने, स्कूल वाहनों को शैक्षिक भ्रमण के लिए कहीं भी जाने की छूट, वाहनों में जितनी सीटें हैं उतने ही बच्चों को बैठने की छूट आदि शामिल है।

अपर परिवहन आयुक्त ने बताया कि अगस्त बाद स्कूल खुलेंगे या नहीं इस बारे में अंतिम निर्णय शासन स्तर से लिया जाएगा। लेकिन परिवहन विभाग ने स्कूल वाहनों की नियमावली में नए बदलाव के लिए शासन के सामने विभागीय पक्ष रख दिया है। अब स्कूल खुलने के पहले परिवहन विभाग स्कूल वाहनों की नियमावली में सुधार की सभी प्रकियाओं को पूरा कर लेगा। भले ही स्कूल सितम्बर में खुले या इसके बाद, तैयारियां समय से पहले पूरी करनी है।

गौरतलब है कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए सभी स्कूल और कॉलेज 31 अगस्त तक बंद हैं। इस बीच परिवहन विभाग बच्चों के स्कूल वाहनों की सुरक्षा को पुख्ता करना चाह रहा है।