Trump India Visit: हैदराबाद हाउस पहुंचे ट्रंप, थोड़ी देर में PM मोदी के साथ द्विपक्षीय वार्ता…

नई दिल्ली: Trump India Visit अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, दिल्ली के हैदराबाद हाउस पहुंच गए हैं। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने हैदराबाद हाउस में पीएम नरेंद्र मोदी के साथ मुलाकात की। इस दौरान उनके साथ अमेरिका की प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप भी मौजूद रहीं।यहां थोड़ी देर में पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच द्विपक्षीय वार्ता होगी। इस दौरान कई बड़े रक्षा समझौतों पर भारत की नजर है। गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का आज भारत दौरे का दूसरा और आखिरी दिन है।

कई मुद्दों पर सहमित बनाने की कोशिश

ट्रंप-मोदी की इस द्विपक्षीय वार्ता के दौरान कई मुद्दों पर दोनों देश सहमति बनाने की कोशिश करेंगे। विदेश सचिव के मुताबिक, वार्ता समग्र होगी और इसमें रक्षा, सुरक्षा, आतंकवाद से लड़ाई, व्यापार, ऊर्जा, लोगों से लोगों के बीच संपर्क और अन्य द्विपक्षीय मामलों सहित हमारी रणनीतिक भागीदारी से संबंधित मुद्दों पर चर्चा होगी। इसके बाद दोनों दिग्गज नेता साझा बयान जारी करेंगे।

सैन्य समझौतों पर होगी बात

सोमवार को अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में आयोजित ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम में अमेरिकी राष्ट्रपति ने घोषणा की कि तीन अरब डॉलर कीमत के अत्याधुनिक सैन्य हेलीकाप्टर और अन्य उपकरणों के लिए मंगलवार को समझौते किए जाएंगे।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने दोनों देशों के बीच तीन अरब डॉलर के हेलीकॉप्टर खरीद समझौते का जिक्र किया और कहा कि अमेरिका भारत का सबसे मजबूत सैन्य साझेदार बनना चाहता है और इस बारे में हम बात कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अमेरिका दुनिया में सबसे बेहतरीन हथियार व सैन्य उपकरण बनाता है और वे सभी उपकरण भारत को मुहैया कराने की पेशकश भी की।

‘मोदी हैं टफ नेगोशिएटर’

ट्रंप ने भारत-अमेरिका के बीच चल रही ट्रेड वार्ता का भी जिक्र किया और माना कि भारत के साथ इस मुद्दे पर बात करना आसान नहीं है। मोदी को एक कठिन वार्ताकार (टफ नेगोशिएटर) बताते हुए उन्होंने कहा, ‘हम भारत के साथ एक शानदार ट्रेड समझौते पर बात शुरू कर चुके हैं जो दोनों देशों में निवेश करने को काफी आसान बना देगा। हम अभी तक का सबसे बड़ा ट्रेड समझौता करने जा रहे हैं। मुङो उम्मीद है कि पीएम मोदी के साथ दोनों देशों को समान तौर पर फायदा पहुंचाने वाला समझौता करेंगे।’ ट्रंप पहले भी मोदी को हार्ड बार्गेनर बता चुके हैं।