अमेरिकी केंद्रीय बैंक ने ब्याज दर घटाकर शून्य के करीब किया


वाशिंगटन। अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व ने कोरोना के कहर से निपटने की दिशा में कदम उठाते हुए अचानक ब्याज दर में बड़ी कटौती की।  फेडरल रिजर्व ने ब्याज दर घटाकर शून्य के करीब कर दिया। कोरोना वायरस के संकट और मंदी के खतरों से जूझ रही अमेरिकी अर्थव्यवस्था को प्रोत्साहन देने के मकसद से फेड ने यह कदम उठाया है।

फेड ने बेंचमार्क ब्याज दर जो एक फीसदी से 1.25 फीसदी था उसे घटाकर शून्य से 0.25 फीसदी कर दिया है। अमेरिकी केंद्रीय बैंक ने ब्याज दर में एक फीसदी की कटौती की है। इससे पहले तीन मार्च को फेड ने ब्याज दर में 0.5 फीसदी की कटौती की थी।

फेडरल रिजर्व के चेयरमैन जेरोम पॉवेल ने रविवार की शाम में कहा कि ब्याज दर में कटौती व अन्य कदम जो उठाए गए हैं उनका मकसद अमेरिकी अर्थव्यवस्था को इस कठिन दौर से निकालने में मदद करना है।

फेड द्वारा जो अन्य कदम उठाए गए हैं उनमें अमेरिकी अर्थव्यवस्था में 700 अरब डॉलर डालना भी शामिल है। फेड ने 500 अरब डॉलर और 200 अरब डॉलर मूल्य के सरकारी बांड खरीदने की घोषणा की है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप जो पहले ब्याज दर में कटौती नहीं करने को लेकर पॉवेल की आलोचना करते थे उन्होंने फेड के इस कदम के बाद पॉवेल को बधाई दी है। उन्होंने कहा, “यह सचमुच अच्छी खबर है। यह हमारे देश के लिए सचमुच बड़ा काम है।”