National News - राष्ट्रीयफीचर्ड

अब जम्मू-कश्मीर में चिनैनी नाशरी टनल से भी बड़ी सुरंग बनाएगी मोदी सरकार

जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाईवे पर बनी एशिया की सबसे लंबी हाईवे टनल चिनैनी-नाशरी का रिकार्ड आने वाले सालों में टूटने के आसार हैं। मजेदार बात तो यह है कि जम्मू कश्मीर में ही बनने वाली जोजिला टनल की लंबाई चिनैनी-नाशरी टनल से अधिक होगी। नाशरी टनल की कुल लंबाई नौ किलोमीटर है, जबकि जोजिला टनल श्रीनगर-लेह हाईवे पर बनेगी और इसकी लंबाई 14 किलोमीटर होगी। केंद्र सरकार के सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के अंतर्गत नेशनल हाईवे एंड इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कारपोरेशन लिमिटेड कंपनी जोजिला टनल का निर्माण कार्य इसी साल अगस्त महीने से करने की तैयारी कर रही है। 

जोजिला टनल का निर्माण कार्य करीब 5000 करोड़ की राशि से होना है। इस ऐतिहासिक टनल का निर्माण कार्य पूरा होने के बाद श्रीनगर-लेह हाईवे को आल वेदर बनाने में बड़ी मदद मिलेगी। मौजूदा समय में सर्दियों के मौसम में बर्फबारी के बाद श्रीनगर-लेह हाईवे बंद हो जाता है। बर्फ पिघलने के बाद ही हाईवे पर यातायात कई महीनों के बाद बहाल होता है। 

नेशनल हाईवे एंड इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कारपोरेशन लिमिटेड कंपनी के प्रबंधक निदेशक आनंद कुमार ने रियासत के लोक निर्माण विभाग के मंत्री नईम अख्तर को जानकारी दी है कि कारपोरेशन अगस्त 2017 से जोजिला टनल का निर्माण कार्य शुरू कर सकता है। अगर जोजिला टनल का निर्माण कार्य आने वाले सालों में पूरा होता है तो एक बार फिर जम्मू कश्मीर से इंजीनियरिंग के क्षेत्र में अलग मिसाल पूरे विश्व में पेश होगी। लद्दाख खित्ते को कब्जाने की साजिश के तहत 1948 में पाकिस्तान समर्थित हमलावरों ने जोजिला क्षेत्र पर कब्जा कर लिया था। भारतीय सेना ने आपरेशन बिच्छू चलाकर जोजिला टनल को दोबारा हासिल कर पाकिस्तानी हमलावरों को मार भगाने में कामयाबी हासिल की थी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Back to top button