फीचर्डस्पोर्ट्स

आईपीएल की प्रतिष्ठा धूमिल नहीं होने दी जाएगी : गावस्कर

sgअबु धाबी। सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश पर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी संभाल रहे भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने कहा कि आईपीएल की प्रतिष्ठा से कोई समझौता नहीं किया जाएगा। अबु धाबी के शेख जाएद स्टेडियम में मुंबई इंडियंस और कोलकाता नाइट राइड्र्स के बीच जारी आईपीएल-7 के पहले मैच की पहली पारी की समाप्ति पर गावस्कर ने कहा कि आईपीएल की छवि सबसे ऊपर है  तथा किसी भी कीमत पर इसे धूमिल नहीं होने दिया जाएगा। बीसीसीआई के अंतरिम अध्यक्ष गावस्कर ने पहले मैच में उमड़ी दर्शकों की संख्या पर प्रसन्नता जाहिर की और कहा कि गिनती के कुछ लोगों के कारण पूरे टूर्नामेंट पर कीचड़ नहीं उछाला जा सकता। ज्ञात हो कि आईपीएल का पिछला संस्करण मैच फिक्सिंग और सप्तेबाजी के आरोपों से बुरी तरह प्रभावित हुआ था  जिसकी जांच अभी भी चल रही है। आईपीएल-6 मैच फिक्सिंग और सप्तेबाजी मामले में बुधवार को सर्वोच्च न्यायालय ने बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष एन. श्रीनिवासन की बीसीसीआई अध्यक्ष पद पर बहाली की याचिका को खारिज कर दिया। सर्वोच्च न्यायालय ने बुधवार को अहम खुलासा करते हुए कहा कि आईपीएल मैच फिक्सिंग और सप्तेबाजी की जांच के लिए गठित न्यायमूर्ति मुकुल मुद्गल समिति की रिपोर्ट  जो अब तक सीलबंद थी  में जिन 13 लोगों के नाम हैं उनमें श्रीनिवासन का नाम भी शामिल है। गावस्कर ने अधिकांश खेल प्रशंसकों से उम्मीद जताई कि वे समझ रहे होंगे कि इस टूर्नामेंट को सफल बनाने के लिए बड़ी संख्या में लोग अथक मेहनत कर रहे हैं।

Unique Visitors

12,926,776
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Back to top button