National News - राष्ट्रीयफीचर्ड

आज फिर होगी रामदेव से पूछताछ, बोले: सोनिया को पता होगी वजह

baba-ramdev-601
बाबा रामदेव

– आठ घंटे पूछताछ के बाद रात 1 बजे एयरपोर्ट से छूटे बाबा रामेदव

लंदन। योग गुरू बाबा रामदेव को लंदन के हीथ्रो इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर रोककर करीब आठ घंटे तक पूछताछ की गई। भारतीय समयानुसार देर रात करीब 1 बजे जब बाबा को छोड़ा गया तो बाबा के चेहरे पर परेशानी व नाराजगी साफ झ्ालक रहीं थी। गुस्साए बाबा से जब रोकने का कारण पूछा तो उन्होंने कहा कि शायद सोनिया गांधी को कारण पता होगा। शनिवार को भी रामदेव से पूछताछ की जाएगी।
बाबा रामदेव यहां पतंजलि योगपीठ द्वारा स्वामी विवेकानंद की 120वीं वषर्गांठ पर आयोजित होने वाले समारोह में भाग लेने आए है। कहा जा रहा है कि बाबा बिजनेस वीजा की जगह यात्री वीजा लेकर आए थे। कुछ दवाईयों व किताबों को लेकर भी उनसे पूछताछ हुई हालांकि उनके पास कोई दवाईयां नहीं मिली। उनके प्रवव्ता एस के तेजरावाला ने इन रिपोर्टों को आधारहीन बताया ।
एयरपोर्ट से बाहर निकलने के बाद बाबा ने कहा कि  ‘मुझे आठ घंटे यहां क्या अष्टांग योग करवाया गया। मेरे पास एक ढेला भी नहीं है। एक डॉलर, एक रुपया भी नहीं। मैं रखता ही नहीं अपने पास। नोट बुक ले ली जिसमें लेक्चर्स के नोट्स बनाता हूं. रोके जाने का कोई कारण नहीं बताया। शायद सोनिया गांधी को कारण पता होगा।‘
भारतीय समयानुसार शाम 5 बजे बाबा रामदेव अपने सहयोगियों के साथ एयरपोर्ट से बाहर निकल ही रहे थे, तभी इमिग्रेशन वाले आए और उन्हें रोक लिया। जानकारी लेने के बाद रात 9 बजे उन्हें जाने को कह दिया गया। लेकिन फिर अचानक उन्हें रोक लिया गया। कुछ दस्तावेजों को लेकर उनसे फिर पूछताछ होने लगी।
ब्रिटिश प्रशासन से पूछे रोकने कारण
तेजारवाला ने बताया, ’स्पष्ट नहीं है कि योग गुरू को किसलिए रोक कर रखा गया। वह अपने साथ अपने निजी सामान के अलावा कुछ भी नहीं लिए हुए थे। यह तो ब्रिटिश प्रशासन ही बता सकता है कि उन्हें क्यों रोका गया। ‘‘
खुर्शीद को लिखी गई चिट्ठी
रामदेव के सहयोगी एसके तिजारावाला ने विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद को चिट्ठी लिखी और मामले में फौरन कार्रवाई की अपील की।

 

Unique Visitors

13,412,188
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Back to top button