National News - राष्ट्रीयTOP NEWS

उत्तर भारत में बारिश के साथ गिरे ओले, सुहाना हुआ मौसम…

नई दिल्ली: उत्तर भारत में मौसम का मिजाज एकबार फिर बदल गया है। पहाड़ पर शुरू हुई बर्फबारी, बारिश और ओलावृष्टि का दौर मैदान तक जारी रहा। इससे दिल्ली-एनसीआर में शनिवार शाम शुरू हुई तेज बारिश का दौर देर रात तक जारी रहा। इससे उत्तराखंड में जहां पारा गिरा है। वहीं, हिमाचल में किसानों की चिंता बढ़ गई है। बारिश के बाद दिल्ली-एनसीआर के लोगों को गर्मी से कुछ राहत मिली। प्रादेशिक मौसम पूर्वानुमान केंद्र दिल्ली के प्रमुख डॉ. कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया कि रविवार को भी बादल छाए रह सकते हैं।

ऐसे आया मौसम में परिवर्तन

डॉ. कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया कि 17 अप्रैल को उत्तर भारत में पश्चिमी विक्षोभ आया था। इसके कारण तब भी दिल्ली एनसीआर में बारिश हुई थी। इसका प्रभाव शनिवार के दिन भी पड़ा।

आगे ऐसा रहेगा मौसम

डॉ. कुलदीप ने बताया कि 20 अप्रैल को फिर एक नया पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत में सक्रिय होगा। इसके असर से दिल्ली-एनसीआर में आगामी सोमवार को शाम के समय हल्की बारिश हो सकती है। इसके बाद 22 और 23 अप्रैल को भी बादल छाए रह सकते हैं।

उत्तराखंड में भी गिरा पारा

उत्तराखंड में मौसम शनिवार को भी बदला रहा। सुबह से ही पहाड़ों से लेकर मैदान तक बादलों के बीच धूप की आंख-मिचौनी चलती रही। दोपहर बाद गरज वाले बादल विकसित हुए और पहाड़ी इलाकों में कहीं-कहीं ओलावृष्टि के साथ बारिश हुई। जबकि, मैदानों में तेज हवाओं के साथ बौछार पड़ीं। वहीं, चारधाम समेत उच्च हिमालयी क्षेत्रों में देर शाम हिमपात हुआ। मौसम के बिगड़े तेवर से तापमान में भी दो से तीन डिग्री तक की गिरावट दर्ज की गई।

मौसम साफ रहने से लेकर छाए रह सकते हैं आंशिक रूप से बादल

मौसम विभाग के मुताबिक रविवार को प्रदेश में मौसम साफ रहने से लेकर आंशिक रूप से बादल छाए रह सकते हैं। चारधाम में भी हल्की धूप खिलने के बाद बादलों का डेरा रहा और हल्की बर्फबारी हुई। बारिश-बर्फबारी से हिमाचल के किसानों की चिंता बढ़ी बारिश और बर्फबारी ने बागवानों-किसानों की चिंता बढ़ा दी है। इन दिनों सेब के पौधों पर फूल आ गए हैं और ठंड के कारण सेटिंग में दिक्कत आ सकती है। इसके अलावा शनिवार को ओलावृष्टि के साथ बारिश होने से गेहूं की फसल को नुकसान हुआ है। मौसम विभाग ने बिलासपुर, चंबा, कांगड़ा, कुल्लू, मंडी, शिमला और सोलन जिलों में 40 किलोमीटर की रफ्तार से आंधी चलने और बारिश व ओलावृष्टि के लिए यलो अलर्ट जारी किया था।

मप्र में बदला मौसम का मिजाज, बिजली गिरने से दो की मौत

झारखंड से कर्नाटक तक बनी द्रोणिका लाइन (ट्रफ) के कारण मध्य प्रदेश में भी शनिवार को मौसम का मिजाज बदल गया। प्रदेश के कई स्थानों पर गरज-चमक के साथ हल्की बौछारें पड़ीं। इससे दिन के तापमान में गिरावट दर्ज की गई। शहडोल जिले के मऊ गांव में बिजली गिरने से दो लोगों की मौत हो गई। मौसम में आए बदलाव से किसानों की चिंता बढ़ गई है क्योंकि खरीदी केंद्रों के साथ ही खेतों में भी उपज रखी हुई है।

Unique Visitors

13,063,400
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Back to top button