Lucknow News लखनऊ

उप्र में जहरीली शराब ने ली 1० की जान 5 निलंबित (लीड-1)

b5लखनऊ  (एजेंसी)। उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले में जहरीली शराब पीने से कम से कम 10 लोगों की मौत हो गई और अन्य 15 बीमार लोगों का अस्पताल में इलाज चल रहा है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इस घटना पर सख्त रुख अख्तियार करते हुए आजमगढ़ के जिला आबकारी अधिकारी सहित अन्य चार कर्मियों को निलंबित कर दिया है। जिले के मुबारकपुर थाना क्षेत्र के आदमपुर और चकिया गांव में जहरीली शराब पीने के बाद दो दर्जन से ज्यादा लोगों की हालत बिगड़ गई। परिजनों द्वारा बीमार लोगों को अस्पताल ले जाया गया। कुछ की अस्पताल ले जाए जाने से पहले ही मौत हो गई।अपर पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार ने शुक्रवार को कहा, ‘हम फिलहाल इतना ही कह सकते हैं कि जहरीली शराब से 10 लोगों की मौत हुई है क्योंकि केवल 10 शव पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल लाए गए। पता चला है कि मरने वाले कुछ लोगों का घरवालों द्वारा पहले ही अंतिम संस्कार कर दिया गया। अनधिकृत रूप से मरने वालों की संख्या 35 से ज्यादा बताई जा रही है। उन्होंने कहा कि करीब 14 लोगों का अस्पताल में इलाज चल रहा है  जिसमें चार लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है।’’कुमार ने बताया कि मृतकों में जहरीली शराब को बेचने वाले पिता-पुत्र भी शामिल हैं। उन्होंने भी वही शराब पी थी। घटना की जांच के आदेश दे दिए गए हैं।उधर,  मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने जहरीली शराब से हुई मौतों पर गंभीर रुख अपनाया है। उन्होंने आजमगढ़ के जिला आबकारी अधिकारी ओम प्रकाश सिंह  आबकारी निरीक्षक राजीव मोहन  प्रधान आबकारी सिपाही विजय कुमार सोनकर, आबकारी सिपाही अमित राजभर एवं फरहत अली को शासकीय दायित्वों का निर्वहन न करने तथा कर्तव्यों के प्रति लापरवाही बरतने के कारण निलंबित कर दिया।मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया किया है कि जहरीली शराब के उत्पादन  बिक्री व सेवन पर प्रभावी नियंत्रण सुनिश्चित किया जाए तथा शराब की दुकानों का नियमित निरीक्षण किया जाए।

Unique Visitors

13,412,345
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Back to top button