Business News - व्यापार

केयर्न इंडिया को 20,495 करोड़ रुपये की कर मांग का नोटिस

cairn indiaनई दिल्ली : आयकर विभाग ने केयर्न इंडिया पर 20,495 करोड़ रुपये की कर मांग का नोटिस भेजा है। कंपनी की पूर्व प्रवर्तक केयर्न एनर्जी पीएलसी, कथित तौर पर हुए पूंजीगत लाभ पर विदहोल्डिंग टैक्स की कटौती करने में नाकाम रही जिसके कारण उसे यह नोटिस भेजा गया है। केयर्न इंडिया ने कहा कि वह कर मांग से सहमत नहीं है और अपने हितों की रक्षा के लिए हर संभव विकल्प अपनाएगी। इस सप्ताह की शुरुआत में आयकर विभाग ने केयर्न एनर्जी पीएलसी पर 2006 में भारत की अपनी सारी संपत्ति नयी कंपनी, केयर्न इंडिया को हस्तांतरित करने और इसे शेयर बाजार में सूचीबद्ध करने से हुए कथित तौर पर 24,500 करोड़ रुपये के लाभ के लिए 10,247 करोड़ रुपये के कर की मांग की थी।
कंपनी ने एक नियामकीय सूचना में कहा केयर्न इंडिया लिमिटेड को आज आयकर विभाग से 2006-07 के दौरान हमारी पूर्ववर्ती मूल कंपनी और केयर्न एनर्जी पीएलसी की अनुषंगी केयर्न यूके होल्डिंग्स लिमिटेड को 2006-07 के दौरान हुए कथित पूंजी लाभ पर विदहोल्डिंगि कर की कटौती में नाकाम रहने के मद्देनजर एक आदेश मिला है। केयर्न इंडिया ने कहा कि यह मामला 2006-07 का है जब केयर्न इंडिया का आईपीओ लाने के लिए आंतरिक समूह पुनर्गठन के तौर पर केयर्न इंडिया लि़ को केयर्न इंडिया होल्डिंग्स लिमिटेड के शेयर हस्तांतरित किए गए थे। कंपनी ने कहा 20,495 करोड़ रुपये का मांग नोटिस भेजा गया है जिसमें करीब 10,248 करोड़ रुपये का कर और करीब 10,247 करोड़ रुपये का ब्याज शामिल है। केयर्न इंडिया इस कथित मांग से सहमत नहीं है और अपने हितों की रक्षा के लिए हर संभव विकल्प अपनाएगी।

Unique Visitors

11,414,796
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button