कोरोना से ठीक होने के बाद सूंघने की क्षमता बढ़ाने के लिए करें ये 2 घरेलू उपाय

Anosmia or smell blindness, loss of the ability to smell, one of the possible symptoms of covid-19, infectious disease caused by corona virus. Woman Trying to Sense Smell of a Lemon

गंध और स्वाद का नुकसान होना कोरोना वायरस का सबसे प्रमुख संकेत है जिसे एनोस्मिया भी कहा जाता है। कुछ मरीजों में यह उनके शरीर में मौजूद वायरस का एकमात्र लक्षण था। गंध या स्वाद की हानि चिंताजनक हो सकती है और यह लक्षण ठीक होने के बाद बहुत लंबे समय तक रहता है। ज्यादातर मामलों में, स्वाद जल्दी वापस आ जाता है, जबकि गंध में अधिक समय लग सकता है। इसलिए, यदि आप कोरोना से उबर चुके हैं, लेकिन फिर भी कुछ सूंघ नहीं पा रहे हैं, तो कुछ उपाय आपकी मदद कर सकते हैं।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, वा यरल श्वसन संक्रमण के बाद गंध कम होना कोई नई बात नहीं है। वायरल के बाद की गंध के नुकसान में नाक बहना और नाक के अन्य लक्षण शामिल हैं। वायरस आसानी से नाक तक जाता है और खुद को olfactory nerve से जोड़ लेता है, जो नाक के शीर्ष पर होती है, जो गंध से संबंधित संवेदी जानकारी को मस्तिष्क तक पहुंचाने के लिए जिम्मेदार होती है।

आम तौर पर लोग मीठे, खट्टे, कड़वे और नमकीन जैसे स्वादों की पहचान कर सकते हैं, लेकिन जब आप गंध महसूस नहीं कर पाते, तो आप अंगूर या चेरी के बीच का अंतर नहीं बता सकते, क्योंकि दोनों ही आपके लिए मीठे हैं। जर्नल ऑफ इंटरनल मेडिसिन में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार, 95 प्रतिशत रोगियों में छह महीने के भीतर सूंघने की क्षमता वापस आ जाती है। अधिकांश रोगियों के लिए, SARS-CoV 2 वायरस से olfactory nerve को कोई स्थायी नुकसान होने और लगातार एनोस्मिया होने की संभावना नहीं है।

इंटरनेट पर कई वीडियो सामने आए हैं जहां लोग सुगंधित खाद्य पदार्थों जैसे जले हुए संतरे खाने और प्याज आदि को सूंघने की सलाह दे रहे हैं। यह बेतुका लग सकता है लेकिन ये नुस्खे काम करते हैं। इस तरह के उपाय olfactory nerve पर असर डालते हैं। इसे olfactory ट्रेनिंग कहा जाता है। इससे शरीर को नए तंत्रिका पथ बनाने में मदद करती हैं और इस प्रकार गंध की भावना को ठीक करती हैं।

अल्फा-लिपोइक एसिड, विटामिन ए की खुराक और काउंटर पर स्टेरॉयड नाक स्प्रे भी सहायक हो सकते हैं। olfactory ट्रेनिंग आसानी से घर पर किया जा सकता है और इसका कोई दुष्प्रभाव नहीं है।

आप घर में आसानी से मिलने वाली चीजों को सूंघना शुरू कर सकते हैं। आप कॉफी, परफ्यूम, जायफल, नारियल, वेनिला, पुदीना, लौंग, नीलगिरी, साइट्रस या यहां तक कि अन्य आवश्यक तेलों को सूंघने से शुरू कर सकते हैं। एक बार जब आप इन्हें पहचान लेते हैं, तो आप नई सुगंध की ओर बढ़ सकते हैं। ठीक होने का समय एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में भिन्न होता है। जबकि कुछ दिनों में ठीक हो जाते हैं, कुछ को महीनों लग सकते हैं। कोरोना के बाद गंध की भावना से पीड़ित लोगों में पैरोस्मिया का दुष्प्रभाव हो सकता है, जहां उनकी गंध की भावना वापस आ जाती है लेकिन चीजें उनके लिए बहुत खराब होती हैं।

  1. देश दुनिया की ताजातरीन सच्ची और अच्छी खबरों को जानने के लिए बनें रहेंhttp://dastaktimes.org/ के साथ।
  2. फेसबुक पर फॉलों करने के लिए https://www.facebook.com/
  3. ट्विटर पर पर फॉलों करने के लिए https://twitter.com/home
  4. साथ ही देश और प्रदेश की बड़ी और चुनिंदा खबरों केन्यूजवीडियो’ आप देख सकते हैं।
  5. youtube चैनल के लिए https://www.youtube.com/channel/UCtbDhwp70VzIK0HKj7IUN9Q