International News - अन्तर्राष्ट्रीय

क्षुद्रग्रह की यात्रा के लिए यान बनाएगा नासा

nasaवाशिंगटन। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने गुरुवार को बताया कि इसने धरती के पीछे के एक छुद्रग्रह से नमूने एकत्र करने के लिए अंतरिक्षयान बनाने की अनुमति दे दी है। ओएसआईएस-आरईएक्स (ओरिजिंस स्पेक्टरल इंटरप्रिटेशन रिसोर्स आईडेंटिफिकेशन सिक्योरिटी एक्सप्लोरर) नाम के अंतरिक्ष यान को बनाने की घोषणा बुधवार को की गई। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक  यह घोषणा नासा और कई बाहरी संगठनों के विशेषज्ञों के एक स्वतंत्र समीक्षा बोर्ड द्वारा ‘मिशन क्रिटिकल डिजाइन रीव्यू’ की समीक्षा के बाद की गई। ओएसआईआरआईएस-आरईएक्स कार्यक्रम के सहायक जॉर्डन जॉनस्टन ने नासा के एक बयान में कहा  ‘‘नासा के लिए यह कदम मिशन कागजी कार्रवाही से निर्माण की ओर जाने का अंतिम चरण है। यह पुष्टि करता है कि  लांचिंग के लिए अंतिम डिजाइन का निर्माण शुरू होने जा रहा है।’’ ओएसआईआरएस-आईएक्स 2०16 के अंत में लॉन्च होगा और 2०18 में क्षुद्रग्रह बेन्नू से मिलेगा। अंतरिक्षयान में पांच उपकरण होंगो जो बेन्नू क्षुद्र्रग्रह की सतह का दूर से मूल्यांकन करेंगे। लगभग दो साल तक क्षुद्रग्रह का अवीक्षण करने के बाद यान लगभग दौ औंस (6० ग्राम) नमूने इकट्ठे करेगा और 2०23 में उन्हें धरती पर वैज्ञानिक अध्ययन के लिए वापस करेगा। इस मिशन का लक्ष्य शुरुआती सौर्य प्रणाली और कार्बनिक सामग्रियों के स्त्रोतों औप धरती पर जीवन संभव करने वाले पानी के अधारभूत सवालों का जवाब ढूंढ़ना है। नासा ने कहा कि इसके अलावा यह अमेरिकी राष्ट्रपति के 2०25 तक मानव को एक क्षुद्रग्रह भेजने के लक्ष्य को पूरा करने में मदद करेगा।

Related Articles

Back to top button