International News - अन्तर्राष्ट्रीय

जाने: पीटीआई ने किसको चुना प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार, 14 अगस्त को ले सकते हैं शपथ

इस्लामाबाद : पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) की संसदीय समिति ने पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में इमरान खान को आज आधिकारिक तौर पर नामित कर दिया। वहीं पार्टी की ओर से नामांकन के बाद इमरान खान ने शपथ ली, कि वह जनादेश का सम्मान करेंगे और देश को मौजूदा वित्तीय संकट से उबारेंगे। क्रिकेटर से नेता बने 65 वर्षीय इमरान खान, की पार्टी 25 जुलाई को हुए आम चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी थी। यहां एक होटल में हुई पीटीआई की संसदीय समिति की बैठक में खान को नामित किया गया। वहीं पार्टी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष शाह महमूद कुरैशी, ने संसदीय दल के नेता के रूप में इमरान खान के नाम का प्रस्ताव पेश किया।

जबकि नेशनल एसेंबली और सीनेट के नवनिर्वाचित नेताओं ने इसे सर्व सम्मित से पारित कर दिया। खान ने अपने नेतृत्व में भरोसा व्यक्त करने के लिए सदस्यों का शुक्रिया अदा किया। उन्होंने यह भी कहा पार्टी का इतिहास, अपने संघर्ष और उपलब्धियों, 1992 में क्रिकेट वर्ल्ड कप में पाकिस्तान की जीत की बात की और भविष्य की योजनाओं की रूपरेखा पेश की। खान ने कहा, मेरा ध्यान या प्रधानमंत्री बनने पर नहीं था। उन्होंने कहा, देश ने जिन मुद्दों पर हमारे लिए मतदान किया है, प्राथमिकता के आधार पर उन्हें सुलझाना हमारा फर्ज है। उन्होंने यह भी कहा, हमारा देश वित्तीय संकट से गुजर रहा है, और हमें इसे उबारने की जरूरत है। हम अपने कर्ज का बोझ कम करने के लिए विदेशों में रह रहे पाकिस्तानियों से संपर्क करेंगे। वहीं पीटीआई के नेता असद उमर देश के अगले वित्तमंत्री बनने की अटकले हैं। उमर ने अनुमान लगाया है कि, अर्थव्यवस्था को घाटे से उबारने के लिए 12 बिलियन अमेरिकी डॉलर की जरूरत होगी। वहीं गत सप्ताह चुनावों में पार्टी की जीत के बाद वह पहली बार बानी गाला स्थित अपने आवास से निकले। गाड़ियों के बड़े काफिले के साथ चलने से इनकार करने के बावजूद उनके साथ बड़ी संख्या में कारें थी, और उन्हें भारी सुरक्षा मुहैया कराई गई थी। पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह की तारीख की घोषणा अभी नहीं की गई हैं| लेकिन यह 14 अगस्त को देश के स्वतंत्रता दिवस के दिन हो सकता है। वहीं पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में कुल 342 सदस्य होते हैं, जिनमें से 272 सीधे निर्वाचित होकर आते हैं। वहीं कोई भी पार्टी तभी सरकार बना सकती है, जब उसके पास कुल 172 सीटें हों। पीटीआई के प्रवक्ता फवाद चौधरी ने दावा किया कि सहयोगियों और आरक्षित सीटों के साथ पार्टी नेशनल असेंबली में जादूई आंकड़ा हासिल कर लेगी और उसके पास 174 सीटें होंगी।

Related Articles

Back to top button