दिल्ली हिंसा का हो उच्चस्तरीय जांच : बसपा सुप्रीमो मायावती

लखनऊ : बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर हुई हिंसा की उच्च स्तरीय जांच कराने की मांग की है। मायावती ने कहा है कि यह घटना अति दुखद है। सरकार को दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। मायावती ने इस संबंध में एक ट्वीट किया है। उन्होेंने लिखा है – दिल्ली के कुछ क्षेत्र में पिछले कुछ दिनों की हिंसा, उपद्रव व आगजनी की घटनाओं में भारी जान-माल की क्षति अति-दुःखद व अति-निन्दनीय। केन्द्र व दिल्ली सरकार इसे पूरी गंभीरता से लेकर इसकी उच्च स्तरीय जाँच कराए व सभी लापरवाह व दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करे, यह बसपा की मांग है।” सीएए के विरोध में हुई हिंसा में अब तक 20 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 250 लोग घायल हुए हैं। अब हालात काबू करने की जिम्मेदारी एनएसए अजीत डोभाल संभाल रहे हैं। वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कैबिनेट को रिपोर्ट करेंगे।

आज मोदी कैबिनेट की मीटिंग भी होगी। अमित शाह दिल्ली के हालात पर रिपोर्ट पेश करेंगे। मंगलवार-बुधवार की दरमियानी रात 12.30 बजे एक वकील की याचिका पर दिल्ली हाईकोर्ट ने सुनवाई की। कोर्ट ने घायल लोगों को अल हिंद अस्पताल से किसी बड़े हॉस्पिटल शिफ्ट करने के आदेश दिए। गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार सुबह शाहदरा हिंसा में घायल डीसीपी अमित शर्मा के परिवार से फोन पर बातचीत की।