Crime News - अपराधNational News - राष्ट्रीयफीचर्ड

पटना विस्फोटों का संदिग्ध फरार

fharपटना  (एजेंसी)। पटना श्रृंखलाबद्ध विस्फोटों का संदिग्ध मेहर आलम दरभंगा से पटना लाए जाते समय मुजफ्फरपुर के एक शौचालय से फरार हो गया। पुलिस ने गुरुवार को यह जानकारी दी। आलम (25 वर्ष) न केवल रविवार को भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी की रैली में हुए विस्फोटों का संदिग्ध है वरन इस वर्ष जुलाई में बोधगया में हुए विस्फोटों में भी उसकी संदिग्ध भूमिका मानी जा रही थी। आलम को बिहार के दरभंगा जिले से गिरफ्तार किया गया। उसे राष्ट्रीय जांच एजेंसी के जवान पटना ला रहे थे। उन्होंने कहा कि आलम ने मुजफ्फरपुर में शौच के लिए जाने की बात कही और फिर लौटकर नहीं आया। अधिकारी इस बात की पुष्टि करने में असमर्थ थे कि वह बुधवार रात को या गुरुवार तड़के फरार हुआ। कुछ पुलिस अधिकारियों ने कहा कि घटना बुधवार रात को हुई जबकि कुछ का दावा है कि यह गुरुवार तड़के हुआ। बिहार पुलिस और राष्ट्रीय जांच एजेंसी के दल आलम की तलाश में जुटे हैं। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि एनआईए दल पटना के बम विस्फोटों में शामिल संदिग्धों की तलाश में मुजफ्फरपुर में दो और दरभंगा के तीन स्थानों पर छापा मारा। अगले कुछ दिनों में कुछ और छापे मारे जाएंगे। एनआईए ने एक अन्य संदिग्ध आतंकवादी मोहम्मद आफताब के मुजफ्फरपुर स्थित घर पर छापा मारा जिसे दिल्ली से पकड़ा गया था। एनआई और आईबी के अधिकारी पकड़े गए तीन में से दो संदिग्धों मुहम्मद इम्तियाज अंसारी और अशरद आलम से पूछताछ कर रहे हैं। पटना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मनु महाराज के अनुसार इम्तियाज और अरशद आठ और 1० अक्टूबर के बीच पटना आए और उन स्थानों की पहचान की जहां विस्फोट किए जा सकते थे।

Unique Visitors

13,481,252
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Back to top button