Crime News - अपराधState News- राज्यउत्तर प्रदेश

पत्नी के तलाक से तंग आकर पति ने की सुसाइड, आखिरी ख़त में लिखा ऐसा…

आगरा: पति और पत्नी का रिश्ता बेहद नाज़ुक होता है. ऐसे में अगर जिंदगी भर के लिए आपको एक साथी की जरूरत है तो आपको उसके साथ कदम से कदम मिला कर  चलना होगा. क्यूंकि आपका पार्टनर आपसे ढेर सारे प्यार और केयर की उम्मीद रखता है. और अगर उसको आपसे वो केयर नहीं मिलती तो उसको ये रिश्ता बोझ लगने लगता है. कुछ ऐसा ही मामला हाल ही में हमारे सामने आया है. जहाँ, एक पत्नी के तलाक मांगने से दुखी होकर उसके पति ने आत्महत्या कर ली. दरअसल, दोनों की शादी को दो साल हो चुके थे लेकिन, किसी अनबन के चलते पत्नी पिछले दो महीने से अपने मायके में रह रही थी. जिसके बाद उसने पति को तलाक के पेपर्स भिजवा दिए. पति ने तंग आकर फंदे से लटक कर अपनी जान दे दी. आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि मरने से पहले युवक ने व्हाट्सएप और फेसबुक पर सबसे माफ़ी की अपील की थी और साथ ही 4 पेज का सुसाइड लेटर भी लिखा. फिलहाल मृतक की पत्नी का रो रो कर बुरा हाल है और किसी ने पुलिस को मामले की जानकारी नहीं दी है.पत्नी के तलाक से तंग आकर पति ने की सुसाइड, आखिरी ख़त में लिखा ऐसा...

दरअसल, ये पूरा मामला बाह तहसील के जैतपुर कस्बा क्षेत्र में रहने वाले सर्राफा कारोबारी का है. अमित जैन (32 वर्ष) नामक युवक की शादी दो साल पहले 10 जुलाई 2016 को मैनपुरी की ज्योति से हुई थी. जानकारी के अनुसार मृतक अमित अपनी पत्नी ज्योति से बेहद प्यार करता था लेकिन किसी कारण दोनों में अनबन हो गई. जिसके चलते ज्योति दो महीने पहले अपने मायके मैनपुरी लौट गई थी.मृतक के परिजनों के अनुसार अमित ने ज्योति को कई बार मनाने की कोशिश की लेकिन वह नहीं मानी. इसके बाद 27 दिसम्बर को ज्योति ने अमित के घर तलाक के कागज़ भिजवा दिए जिसने अमित की रातों की नींद उड़ा दी. परिजनों के अनुसार अमित किसी भी कीमत पर ज्योति से दूर नहीं होना चाहता था इसलिए उसको मनाने के लिए वह हर संभव कोशिश करता था. जानकारी के अनुसार बीती 30 दिसम्बर को अमित ने गाँव की पंचायत बुलवा कर ज्योति से सुलह करनी चाही लेकिन उसकी ये कोशिश भी नाकाम रही.

आपकी जानकारी के लिए हम आपको  बता दें कि बीते बुधवार को सुबह 11 बजे तक अमित कमरे से बहर नहीं आया था. जिसके बाद उसके परिवार वालों को उसकी फ़िक्र होने लगी. जब उसके पिता इन्द्रसेन अमित को जगाने के लिए उसके कमरे में पहुंचे तो वहां का नज़ारा देख उनके होश उड़ गए. दरअसल, कमरे के पंखे से अमित का शव फंदे में झूल रहा था. जिसके बाद पिता ने परिवार के अन्य सदस्यों की मदद से शव को नीचे उतारा और उसको अस्पताल ले गये. लेकिन, तब तक बहुत देर हो चुकी थी. डॉक्टर्स ने अमित को अस्पताल में मृत घोषित कर दिया. जिसके बाद पूरे परिवार में मातम छा गया.

अमित द्वारा की गयी आत्महत्या की सूचना जब पुलिस को मिली तो उन्होंने मौके पर पहुँच कर उसका शव बरामद कर लिया और पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया. वहीँ, अमित के कमरे की जांच करने के बाद पुलिस को उसका आखिरी लिखा हुआ ख़त मिला. इस ख़त में अमित ने अपने मरने की वजह बयान की थी. इसके इलावा इस ख़त में अमित ने लिखा कि, “मैं ज्योति से बहुत प्यार करता हूँ. लेकिन वह मुझे छोड़ कर चली गयी है और मेरे पास कभी वापिस नहीं आना चाहती. अब मैं ज्योति को छोड़ कर हमेशा के लिए जा रहा हूँ” इसके इलावा अमित ने लिखा कि ” ज्योति अब तुम मुझे मिलने के लिए तड़पोगी लेकिन मैं तुमसे चाह कर भी नहीं मिल पाउँगा”.

इसके इलावा अमित ने मरने से पहले सोशल साइट्स पर सबसे दुआयों की अपील की. अमित के दोस्तों के अनुसार मरने से पहले उसके आखिरी बोल थे “अच्छा चलता हूँ दुआयों में याद रखना”. अमित के जाने के बाद पूरा परिवार गम में डूब गया है और ज्योति का भी रो रो कर बुरा हाल है.

Related Articles

Back to top button