पाकिस्तान में 3 हजार साल पुराने मंदिर में अवैध निर्माण से हिंदूओं में रोष, पेशावर हाई कोर्ट में याचिका दाखिल

पेशावरः पाकिस्तान में खैबर पख्तूनख्वा के मनसेहरा में स्थित करीब 3000 साल पुराने शिव मंदिर के परिसर में अवैध निर्माण ने क्षेत्र के हिंदू समुदाय में रोष व्याप्त है। द न्यूज इंटरनेशनल के अनुसार मंदिर के धार्मिक, ऐतिहासिक और स्थापत्य महत्व के बावजूद संबंधित विभाग द्वारा स्थल पर अनियोजित निर्माण के कारण मंदिर की प्रामाणिकता खतरे में है।

बताया गया कि मंदिर में ऐसे स्थान पर शौचालयों का निर्माण किया जा रहा है जिससे मंदिर की पवित्रता, ऐतिहासिक और स्थापत्य मौलिकता और प्रामाणिकता को खतरा पैदा गया है। हिंदू समुदाय ने पेशावर हाई कोर्ट की एबटाबाद पीठ का रुख किया, जिसने मामले को सुनवाई के लिए स्वीकार कर लिया और संबंधित अधिकारियों को नोटिस जारी किया।

ऑल पाकिस्तान हिंदू राइट्स मूवमेंट के अध्यक्ष हारून सरब दियाल ने बताया कि मनसेहरा शिव मंदिर पाकिस्तान के सबसे पुराने हिंदू मंदिरों में से एक है, जिसे चिट्टी गती के नाम से जाना जाता है। यह नाम सफेद संगमरमर से बने शिव लिंग की के कारण दिया गया है। शिवरात्रि के दौरान यहां पूरे पाकिस्तान और विदेशों से लोग आते हैं। मंदिर का एक बड़ा धार्मिक महत्व है और देश और विदेश से धार्मिक पर्यटकों को आकर्षित करने की क्षमता रखता है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, खैबर पख्तूनख्वा सरकार की बोर्ड की तकनीकी टीम कुछ दिनों में क्षेत्र का दौरा करेगी और सभी हितधारकों के परामर्श से इस मुद्दे का समाधान किया जाएगा। ऑल पाकिस्तान हिंदू राइट्स मूवमेंट के अध्यक्ष हारून सरब दियाल ने कहा कि समुदाय ने इस महत्वपूर्ण मंदिर की पवित्रता और प्रामाणिकता सुनिश्चित करने के लिए साइट पर निर्माण को रोकने के लिए संबंधित अधिकारियों के ध्यान में इस मुद्दे पर खींचा गया है। हालांकि, इतना गंभीर मामला होने पर भी किसी अधिकारी ने संज्ञान नहीं लिया।

  1. देश दुनिया की ताजातरीन सच्ची और अच्छी खबरों को जानने के लिए बनें रहेंhttp://dastaktimes.org/ के साथ।
  2. फेसबुक पर फॉलों करने के लिए https://www.facebook.com/
  3. ट्विटर पर पर फॉलों करने के लिए https://twitter.com/home
  4. साथ ही देश और प्रदेश की बड़ी और चुनिंदा खबरों केन्यूजवीडियो’ आप देख सकते हैं।
  5. youtube चैनल के लिए https://www.youtube.com/channel/UCtbDhwp70VzIK0HKj7IUN9Q