International News - अन्तर्राष्ट्रीयTOP NEWS

पाक को अमेरिका की ‘डांट’- अपनी जमीन पर आतंकियों के खिलाफ करे कार्रवाई

usनई दिल्ली: अमेरिका ने कहा है कि पाकिस्तान को सभी आतंकी समूहों को निशाना बनाना चाहिए और इनमें उन समूहों को भी शामिल किया जाना चाहिए, जो उसके पड़ोसी देशों को निशाना बनाते हैं। हालांकि साथ ही अमेरिका ने यह भी कहा है कि वह आतंकी समूहों के खिलाफ कार्रवाई न करने को लेकर पाकिस्तान के खिलाफ प्रतिबंध लगाने की योजना नहीं बना रहा है।

 विदेश मंत्रालय के उपप्रवक्ता मार्क टोनर ने अपनी रेग्युलर प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘हम किसी किस्म के प्रतिबंध के बारे में नहीं सोच रहे।’ हाल ही में संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी राजदूत जाल्मे खलीलजाद ने एक बयान में कहा था कि अब अमेरिका को पाकिस्तान के खिलाफ प्रतिबंध लगाने के विकल्प पर गंभीरता से विचार करना चाहिए। खलीलजाद के इस बयान से जुड़ा सवाल पूछे जाने पर टोनर ने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि हम उस कगार पर हैं।’

 उन्होंने कहा, ‘मेरा कहने का अर्थ है कि हम पाकिस्तान सरकार के उच्चस्तरीय लोगों के साथ बातचीत जारी रखे हुए हैं और इन सभी वार्ताओं में मूल बिंदु यह होता है कि पाकिस्तान को सभी आतंकी समूहों को निशाना बनाना चाहिए। इनमें वे आतंकी समूह भी शामिल होने चाहिए, जो पाकिस्तान के पड़ोसी देशों को निशाना बनाते हैं। पाकिस्तान को आतंकी समूहों के ठिकानों को नष्ट करना चाहिए और मैं आपको भी यही बताने की कोशिश कर रहा था।’

टोनर ने कहा, ‘पाकिस्तानी अधिकारियों की ओर से जो प्रतिक्रिया हमें मिली है, वह यह है कि उन्होंने ऐसा करने के अपने इरादों के बारे में हमें आश्वासन दिया है। हम उनके द्वारा उठाए गए कुछ कदमों से, अफगानिस्तान सीमा पर कुछ आतंकवाद रोधी अभियानों से हम प्रोत्साहित हुए हैं। हम इन प्रयासों को बढ़ाने के लिए और आतंकी समूहों पर ज्यादा दबाव बनाने के लिए उनके साथ काम करना जारी रखेंगे।’

हाल ही में भारत और बांग्लादेश यात्रा के दौरान विदेश मंत्री जॉन केरी द्वारा की गई टिप्पणी का हवाला देते हुए टोनर ने कहा कि अमेरिका पाकिस्तानी धरती…पाकिस्तानी क्षेत्र से आतंकी गतिविधियों का संचालन करने वाले सभी आतंकी समूहों के खिलाफ कार्रवाई पर ज्यादा ध्यान केंद्रित करने की जरूरत के संदर्भ में पाकिस्तान के नेतृत्व और सैन्य नेतृत्व के साथ बेहद स्पष्ट वार्ताएं कर चुका है।

उन्होंने कहा, ‘हम लगातार उनके साथ ये चर्चाएं कर रहे हैं। हमने इस संदर्भ में कुछ प्रयासों की प्रगति देखी है। आगे बढ़ते हुए हम ये वार्ताएं जारी रखेंगे। आतंकी समूहों के खिलाफ कार्रवाई करना, उन्हें उखाड़ फेंकना और उन्हें नष्ट कर देना पाकिस्तान और अफगानिस्तान दोनों के ही हित में है।’ टोनर ने कहा, ‘हमारा अंतिम लक्ष्य यही है कि हम क्षेत्र में शांति और स्थिरता देखना चाहते हैं और इसमें पाकिस्तान की ओर से प्रयास और अफगानिस्तान की काबिलियत की अपनी भूमिका है। हम चाहते हैं कि अफगान सरकार अपनी जनता को स्थिरता और सुरक्षा उपलब्ध करवाए। हमारे प्रयास इसी पर केंद्रित हैं।’

 

Unique Visitors

13,040,635
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Back to top button