Crime News - अपराधState News- राज्यउत्तर प्रदेशफीचर्ड

मुजफ्फरनगर दंगा भड़काने में आरोपी भाजपा के दूसरे विधायक संगीत सोम ने किया आत्मसमर्पण, गिरफ्तार

Sangeet Som-पुलिस का दावा, कहा गांव सलावा से किया गिरफ्तार
-बसपा नेता नूर सलीम राणा भी गिरफ्तार
-सुरेश राणा को 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया
-राजनाथ ने किया मुजफ्फरनगर दौरा रद्द
मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर दंगों के आरोपी शामली के विधायक सुरेश राणा की गिरफ्तारी के बाद भड़काऊ भाषण देने के आरोपी भाजपा विधायक संगीत सोम ने आज पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। हालांकि पुलिस ने दावा किया है कि भाजपा विधायक सोम को सरधना क्षेत्र के गांव सलावा से गिरफ्तार किया है। वहीं पुलिस ने बसपा विधायक नूर सलीम राणा को गिरफ्तार कर लिया है। मुजफ्फरनगर दंगे के मामले में अब तक कुल तीन गिरफ्तारियां हो चुकी हैं। उधर, भाजपा विधायक सुरेश राणा को कोर्ट में पेश किया गया जहां से उन्हें 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। नूर सलीम की गिरफ्तारी के बाद अब बाकी नामजद नेताओं की गिरफ्तारी की तय दिख रही है।
प्राप्त जानकारी के मुताबिक पुलिस ने दावा किया है कि आज सुबह सोम की गिरफ्तारी का उनके साथ मौजूद समर्थकों ने विरोध किया, लेकिन पुलिस ने उनको काबू में करते हुए सोम को अपनी गिरफ्त में ले लिया। वहीं भाजपा का कहना है कि विधायक संगीत सोम अपने हजारों समर्थकों के साथ सरेंडर करने पहुंचे। सोम एक ट्रक में बैठकर पुलिस के पास पहुंचे और सरेंडर किया। हजारों समर्थकों की नारेबाजी के बीच संगीत ने सरेंडर किया। संगीत सोम अपने समर्थकों के साथ सरधना थाना क्षेत्र के सलावा गांव में पुलिस के सामने आत्मसमर्पण करने पहुंचे। इसके लिए भारी तामझाम जुटाया गया। बाकायदा सोम का घर से जुलूस निकाला गया। सोम ट्रक पर अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ सरेंडर करने पहुंचे।
पुलिस संगीत सोम को पुलिस की गाड़ी में ले जाना चाहते थे। लेकिन सोम के समर्थकों उन्हें उनकी फॉर्चूनर गाड़ी में ले जाना चाहते थे। भीड़ ने संगीत सोम को पुलिस की गाड़ी में बैठने नहीं दिया। पुलिस और भीड़ आमने सामने आ गई। समर्थक इस बात पर अड़े रहे कि वो अपनी गाड़ी में थाने जाएंगे। आखिरकार सोम अपनी प्राइवेट गाड़ी में पूरा तामझाम के साथ थाना जाने के लिए निकले। संगीत सोम पर आरोप है कि उन्होंने इंटरनेट पर फर्जी वीडियो डाला था जिसकी वजह से इलाके में दंगा भड़का था।
इस बीच आज भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने अपना मुजफ्फरनगर का दौरा रद्द कर दिया है। मुजफ्फरनगर के डीएम ने उनसे कहा था कि वो मुजफ्फरनगर न आएं क्योंकि उनके आने से शहर और आसपास के इलाकों का माहौल बिगड़ सकता है। माहौल को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। एहतियातन मुजफ्फरनगर का सलावा गांव पूरी तरह से छावनी में तब्दील कर दिया गया है।
गौरतलब हो की मुजफ्फरनगर दंगा मामले में पहली बड़ी गिरफ्तारी कल हुई थी। सुरेश राणा को कल गिरफ्तार किया गया था जबकि सोम ने आज सरेंडर किया। इस मामले में अब तक कुल तीन गिरफ्तारियां हो चुकी हैं। दंगा भड़काने के आरोपियों में कुल 16 नेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज है। इनमें भाजपा, बसपा, कांग्रेस, सपा और भारतीय किसान यूनियन के राकेश टिकैत और नरेश टिकैत का नाम भी शामिल है।

Unique Visitors

13,436,752
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... A valid URL was not provided.

Related Articles

Back to top button