State News- राज्यउत्तर प्रदेश

मेरठ नगर निगम में वंदेमातरम पर बवाल, सांसद और महापौर के सामने भिड़े पार्षद

मेरठ। टाउन हॉल में सोमवार को नगर निगम के नवनिर्वाचित बोर्ड की परिचय बैठक में वंदेमातरम गायन को लेकर जमकर बवाल हुआ। सांसद राजेंद्र अग्र्रवाल और महापौर सुनीता वर्मा समेत सभी पार्षद खड़े हो गये। मुस्लिम पार्षद उठकर बाहर चले गये। लाउडस्पीकर पर वंदेमातरम जैसे ही बजा वैसे ही बवाल हो गया।मेरठ नगर निगम में वंदेमातरम पर बवाल, सांसद और महापौर के सामने भिड़े पार्षदवंदेमातरम के स्थान पर उससे मिलता जुलता फिल्म का गाना बजा दिया गया। इसे वंदेमातरम का अपमान बताते हुए भाजपा पार्षदों ने हंगामा कर दिया। बसपा और सपा पार्षद भी सामने अड़ गये। देशभक्ति नारों के बीच धार्मिक नारे भी लगने लगे। भाजपा पार्षदों ने मोदी-योगी के नारे लगाये तो सपा और बसपा पार्षदों ने जय भीम और अल्लाह हू अकबर के नारे लगाये।

हंगामा होते देख महापौर और नगर आयुक्त सीट छोड़कर चले गये। सीओ दिनेश शुक्ला तथा थानाध्यक्ष देहली गेट विजय गुप्ता के नेतृत्व में पुलिस बल ने सदन में घुसकर स्थिति को संभाला। बाहरी लोगों को बाहर निकालकर बैठक को फिर से शुरू कराया। हंगामे के दौरान ही मेरठ दक्षिण विधायक सोमेंद्र तोमर भी वहां पहुंचे। भाजपा पार्षदों ने नये सिरे से वंदेमातरम कराने की मांग की।

जिसे माना गया और सदन में महापौर समेत सभी ने वंदेमातरम गान किया। हंगामे के बाद महापौर ने नगर आयुक्त से गलत गाना बजाने पर पूछताछ की। जांच करके सख्त कार्रवाई का निर्देश दिया। नगर आयुक्त मनोज चौहान ने बताया कि यह साउंड ठेकेदार की भूल थी। उसे काली सूची में डाल दिया गया है साथ ही नाजिर को पद से हटा दिया गया है। 

Unique Visitors

13,040,585
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Back to top button