Uncategorized

राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों में कंगना फिर बनी ‘क्वीन’

KAGNAनई दिल्ली : फिल्म क्वीन में दमदार अभिनय के लिए अभिनेत्री कंगना रनौत को 62वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार के लिहाज से सर्वश्रेष्ठ अदाकारा घोषित किया गया है, वहीं हैदर और मैरीकॉम ने भी कुछ खिताब अपने नाम किये हैं। इसमें चैतन्य तम्हाने की कोर्ट सर्वश्रेष्ठ फिल्म घोषित की गई। सोमवार को ही अपना जन्मदिन मना चुकीं 28 वर्षीय कंगना को आज एक अच्छा उपहार मिल गया जिन्हें अपने कॅरियर का दूसरा राष्ट्रीय पुरस्कार मिलेगा। उनकी फिल्म क्वीन ऐसी लड़की की कहानी है जो अपने मंगेतर से धोखा खाने के बाद अकेले ही विदेश में हनीमून मनाने चली जाती है। कंगना को 2010 में फिल्म फैशन के लिए सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री का राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार प्रदान किया गया था। विकास बहल निर्देशित यह फिल्म सर्वश्रेष्ठ हिंदी फिल्म की श्रेणी में भी नामित थी। कन्नड फिल्म नानू अवनल्ला अवालू में भावनात्मक किरदार अदा करने के लिए विजय को सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के खिताब के लिए चुना गया है। भारतीय न्याय व्यवस्था की खामियों पर केंद्रित फिल्म कोर्ट राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सराही गयी है। 17 अप्रैल को फिल्म के सिनेमाघरों में प्रदर्शन से पहले यह पुरस्कार मिलने से इसे और अधिक सफलता मिल सकती है।
शेक्सपीयर के प्रसिद्ध उपन्यास हेमलेट पर बनी शाहिद कपूर अभिनीत हैदर को भी पांच पुरस्कारों के लिए चुना गया है। विशाल भारद्वाज को सर्वश्रेष्ठ संगीतकार के लिए खिताब दिया जाएगा। हालांकि वह फिल्म के निर्देशन के लिए सम्मान हासिल नहीं कर सके और सर्वश्रेष्ठ निर्देशक का पुरस्कार बांग्ला फिल्मकार श्रीजीत मुखर्जी (फिल्म चतुष्कोण के लिए) की झोली में चला गया। भारद्वाज को हैदर के लिए सर्वश्रेष्ठ संवाद के सम्मान से भी नवाजा जाएगा, वहीं फिल्म के गीत बिस्मिल के लिए सुखविंदर सिंह सर्वश्रेष्ठ पाश्र्वगायक चुने गए हैं। फिल्म को दो अन्य पुरस्कार कोरियोग्राफी और परिधान डिजाइन की श्रेणी में दिये जाएंगे। बांग्ला फिल्म चतुष्कोण को सर्वश्रेष्ठ सिनेमेटोग्राफी और स्क्रीनप्ले (मूल) के लिए भी सम्मानित किया जाएगा। प्रियंका चोपड़ा अभिनीत मैरीकॉम को सर्वश्रेष्ठ लोकप्रिय फिल्म का खिताब दिया जाएगा। सर्वश्रेष्ठ संगीत निर्देशन की श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ गीत के हकदार भारद्वाज रहे, वहीं मलयाली फिल्म नाइनटीन ऐटी थ्री के लिए गोपी सुंदर को सर्वश्रेष्ठ पाश्र्व संगीत के राष्ट्रीय पुरस्कार से पुरस्कत किया जाएगा। सर्वश्रेष्ठ गीतकार के सम्मान से तमिल फिल्म सैवम में गीत लिखने वाले एनए मुथुकुमार को पुरस्कत किया जाएगा। इसके गीत अक्षागु के लिए गायिका उत्तरा उन्नीकृष्णन सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायिका का खिताब पाने में सफल रहीं। इस बार सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री के राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए हरियाणवी अदाकारा बजिंदर कौर को चुना गया है। यह किसी हरियाणवी अभिनेत्री का पहला राष्ट्रीय पुरस्कार है। किसी निर्देशक की पहली सर्वश्रेष्ठ फिल्म के लिए इंदिरा गांधी पुरस्कार बांग्ला फिल्म आशा जओआर माझे के लिए आदित्य विक्रम सेनगुप्ता के नाम रहा।

Unique Visitors

11,174,518
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button