International News - अन्तर्राष्ट्रीयफीचर्ड

रिहा हुए पूर्व पाकिस्तानी राष्ट्रपति मुशर्रफ

mushइस्लामाबाद (एजेंसी)। पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ को रिहा कर दिया गया। मुशर्रफ को इस्लामाबाद की लाल मस्जिद के उपाध्यक्ष की हत्या के मामले में जमानत मिलने के दो दिन बाद रिहा किया गया। यह जानकारी मुशर्रफ के वकील ने दी। मुशर्रफ को तीन अन्य मामलों में पहले ही जमानत मिल चुकी है  जिसमें पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो की हत्या का मामला भी शामिल है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक मुशर्रफ के वकीलों द्वारा एक-एक लाख रुपये का दो जमानती मुचलका जमा किए जाने के बाद अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश वाजिद अली ने मुशर्रफ की रिहाई के आदेश दिए। मुशर्रफ को लाल मस्जिद के वरिष्ठ धर्माधिकारी अब्दुलर राशिद गाजी की हत्या के मामले में गाजी के बेटे हारून रशीद द्वारा मुशर्रफ के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करवाए जाने के बाद इसी वर्ष 1० अक्टूबर को औपचारिक तौर पर गिरफ्तार कर लिया गया था।
मुशर्रफ को अप्रैल से इस्लामाबाद स्थित उनके फार्महाउस में नजरबंद कर लिया गया था  और बुधवार को फार्महाउस पर तैनात जेल अधिकारियों को न्यायालय का आदेश मिलने के बाद फार्महाउस पर तैनात पुलिसकर्मियों को हटा लिया गया। मुशर्रफ के वकील अहमद रेजा कसूरी ने मीडिया से इस बात की पुष्टि की कि मुशर्रफ को रिहा कर दिया गया है। मुशर्रफ के घर के बाहर कसूरी ने मीडियाकर्मियों के समक्ष मुशर्रफ की रिहाई के लिए किसी तरह का सौदा होने की बात को खारिज किया और कहा कि उन्हें न्यायिक प्रक्रिया के तहत रिहा किया गया है।
कसूरी ने कहा कि मुशर्रफ गुरुवार को संवाददाता सम्मेलन कर अपनी आगे की रणनीति के बारे में बताएंगे।
मुशर्रफ की रिहाई पर इस्लामाबाद के चाक शहजाद स्थित उनके घर के बाहर दर्जनों की संख्या में मुशर्रफ के समर्थक एकत्रित हो गए और मुशर्रफ के समर्थन में नारे लगाए। पूर्व सैन्य शासक मुशर्रफ पाकिस्तान में मई में हुए आम चुनाव हिस्सा लेने के लिए पाकिस्तान वापस लौटे  लेकिन एक अदालत ने उन्हें 1999 में निर्वाचित सरकार को अपदस्थ करने एवं 2००7 में पाकिस्तान में आपातकाल लागू करने के कारण चुनाव लड़ने के लिए अयोग्य करार दे दिया था। पाकिस्तान की विपक्षी दल के कुछ नेताओं का हालांकि कहना है कि सरकार और मुशर्रफ के बीच कुछ गुप्त समझौते हुए हैं  जिसके कारण मुशर्रफ को विदेश जाने की इजाजत मिली है। पाकिस्तानी सरकार ने हालांकि इन आरोपों को खारिज किया है। मुशर्रफ के वकील ने हालांकि इस बात पर विशेष बल दिया कि मुशर्रफ देश छोड़कर नहीं जाएंगे। पाकिस्तान के आंतरिक मामलों के मंत्री चौधरी निसार अली खान ने कहा कि पूर्व सैन्य शासक देश छोड़कर नहीं जा सकते  क्योंकि उन पर विदेश जाने पर पाबंदी लगी हुई है।

Unique Visitors

13,771,092
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Back to top button