International News - अन्तर्राष्ट्रीयफीचर्ड

लापता मलेशियाई विमान की खोज में जुटे कई देश

mllकुआलालंपुर/हनोई। 239 सवारों के साथ शनिवार को लापता हुए मलेशियाई विमान की खोज में कई देश जुट गए हैं। कुआलालंपुर से उड़ान भरने से दो घंटे बाद ही विमान का हवाई संचालन नियंत्रण से संपर्क टूट गया। एमएच 37० फ्लाइट का बोइंग बी 777-2०० विमान कुआलालंपुर से स्थानीय समय के अनुसार रात में 12:21 बजे रवाना हुआ था और स्थानीय समय के अनुसार सुबह 6:3० बजे उसे बीजिंग में उतरना था। अपनी वेबसाइट पर मलेशिया एअरलाइन ने कहा है कि विमान में सवार लोगों में चालक दल के 12 सदस्य और पांच भारतीयों 154 चीनी और 38 मलेशियाई व अन्य देशों के यात्री सहित 239 सवार शामिल हैं। यात्रियों की सूची में एक इतालवी नागरिक के होने की भी जानकारी दी गई है लेकिन रोम से मिली एक जानकारी के मुताबिक थाइलैंड में पासपोर्ट खो जाने के कारण इतालवी यात्री लुईगी माराल्डी विमान में सवार नहीं हो सका। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने वाल्टर के पिता के हवाले से खबर दी है कि इटली के सेसेना शहर में रहने वाले अपने पिता को उसने शनिवार सुबह फोन कर विमान में सवार नहीं होने की जानकारी दी। इतालवी नागरिक का नाम यात्रियों की सूची में शामिल है। इटली के विदेश मंत्रालय ने भी शनिवार को पुष्टि की है कि विमान में मराल्डी सवार नहीं हुआ था।
समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक चीन के नागरिक उड्डयन प्रशासन को वियतनाम के नागरिक उड्डयन अधिकारियों ने सूचित किया है कि वियतनाम मलेशिया और सिंगापुर संयुक्त रूप से वियतनाम के थो चू द्वीप पर लापता विमान की खोज में जुटे हैं। तलाशी अभियान में मदद के लिए चीन ने अपने दो बचाव पोत को दक्षिण चीन सागर की ओर रवाना कर दिया है। मलेशिया एअरलाइन ने अपने बयान में कहा है ‘‘मलेशिया एअरलाइन अभी तक संपर्क स्थापित करने या एमएच 37० की स्थिति बताने में असमर्थ है। आज सुबह सुबंग एटीसी का विमान से 2:4० बजे भोर में संपर्क टूट गया। संपर्क टूटने से पहले विमान रडार पर ०65515 उत्तरी अक्षांस और 1०33443 पूर्वी देशांतर पर था।’’ एअरलाइन ने कहा है कि तलाशी और बचाव में कंपनी अंतर्राष्ट्रीय अधिकारियों के साथ काम कर रही है। मलेशियाई समय के अनुसार 7:2० बजे किए गए ताजा अपडेट में कंपनी ने अपनी वेबसाइट पर कहा है ‘‘आज सुबह बचाव एवं तलाशी के लिए अंतर्राष्ट्रीय अभियान शुरू हुआ है। अभी तक मलेशिया सिंगापुर और वियतनाम के राहत एवं बचाव दल को कोई मलबा नहीं मिला है।’’ मलेशिया एअरलाइन समूह के मुख्य कार्यकारी अहमद जौहरी याहया ने कहा कि लापता विमान मलेशियाई शहर कोटा बारू से करीब 2०० किलोमीटर पूर्व में था तब उससे अंतिम बार संपर्क हुआ था। एक संवाददाता सम्मेलन में यह बताते हुए कि विमान में किसी किस्म की खराबी का संकेत नहीं था उन्होंने कहा ‘‘हमने मलेशियाई और वियतनामी अधिकारियों से संपर्क किया है क्योंकि यह जगह वास्तव में मलेशिया और वियतनाम की वायुसीमा है।’’वियतनाम के अधिकारियों ने कहा है कि जिस समय विमान हो ची मिन्ह वायु यतायात नियंत्रण क्षेत्र में उड़ान भर रहा था उसी दौरान उसका जमीन नियंत्रण से संपर्क टूट गया। हो ची मिन्ह शहर के नियंत्रकों को विमान का कोई संकेत नहीं मिला।
मलेशिया के परिवहन मंत्री हिशामुद्दीन हुसैन ने शनिवार को यहां कहा कि मलेशिया एयरलाइंस के विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने के कोई संकेत नहीं मिले हैं। हिशामुद्दीन ने कुआलालंपुर अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे के नजदीक संवाददाताओं से कहा ‘‘हम मलेशिया सेना से उचित सूचना का इंतजार कर रहे हैं। वे वियतनाम की तरफ से मिलने वाली सूचना का इंतजार कर रहे हैं।’’ यात्रियों की सूची के मुताबिक भारतीय यात्रियों में विनोद कोलेकर (59) चेतना कोलेकर (55) स्वानंद कोलेकर (23) चंद्रिका शर्मा (51) और क्रांति शीर्षथ (44) शामिल हैं। यात्रियों में पांच भारतीयों के अलावा 154 चीनी 38 मलेशियाई 7 इंडोनेशियाई 6 आस्टे्रलियाई 4 अमेरिकी 3 फ्रांसिसी 2 न्यूजीलैंड के 2 यूक्रेनी 2 कनाडाई 1 रूसी 1 इतालवी 1 डच और 1 आस्ट्रियाई शामिल थे।

Unique Visitors

13,066,505
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Back to top button