Uncategorized

लुधियाना : 29 राज्यों के 500 से ज्यादा कलाकारों के ‘हुनर का तड़का’

लुधियाना : लुधियाना के पंजाब कूषि विश्व विद्यालय के नाम से विख्यात खुले मैदान में भारत के 29 राज्यों के 500 से ज्यादा कलाकारों ने अपने-अपने हुनर का तड़का सरस मेले 2017 के नाम से लगा रखा है। इस मेले को देखने के लिए हजारों की संख्या में पंजाब समेत हरियाणा, राजस्थान और हिमाचल व दिल्ली तक के लोग खींचे चले आ रहे है। फिरोजपुर रोड़ स्थित पीएयू में आयोजित इस मेले में जहां अलग-अलग प्रदेशों से आए हुए व्यवसायी अपने-अपने क्षेत्रों के खानपान और आहार का टेस्ट करवा रहे है वही अपनी-अपनी सभ्यता-संस्कृति और पहरावे की वेषभूषा से भी परिचित करवा रहे है।

आज उत्तर प्रदेश के कलाकारों ने सभ्याचार कार्यक्रम के तहत राधाकृष्ण बनकर बरसाना की फूलों वाली होली खेली तो सरकारी कालेज के छात्रों ने भी भंड आइटम पेश किया। जबकि आए हुए मेहमानों और लोगों की सुरक्षा के लिए सैकड़ों पुलिसकर्मीयों ने जिम्मेदारी उठा रखी है। मुख्य द्वार पर पूरी तलाशी लेने पश्चात ही मेले में एंट्री मिलती है। दोपहर बाद असम, मध्य प्रदेश, गुजरात और राजस्थान के कलाकारों ने भी लोकनाच दिखाएं। आज लोकनृत्यों के नाम मेला रहा। लिहाजा रविवार को राज्यों के लोकनृत्यों देखने के लिए भारी भीड़ उमड़ी थी। नार्थ जोन क ल्चर कोंसल पटियाला के कलाकारों ने हरियाणा का घुमर और फग, राजस्थान की मुरली , उड़ीसा का संबलपुरी, बरसाने की होली, मध्य प्रदेश का नोरथा, गुजरात क रथवा और पंजाबी भंगड़ा पेश हुआ। मेला अधिकारी सुरभी मलिक ने बताया कि अलगअलग राज्यों के कलाकार अपनीअपनी सभ्यता-संस्कृति से वाकिफ करवा रहे है वही इस मेले का लक्ष्य एक करोड़ रूपए की सेल का भी तय किया गया है। बहरहाल आज 20 लाख के करीब रोकड़ा जमा हुआ है।

Unique Visitors

13,063,005
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Back to top button