उत्तर प्रदेशफीचर्ड

वाराणसी की छात्रा ने तैयार किया अनोखा डिवाइस, मोदी पावर रिंग से मनचलों को लगेगा 440 वोल्ट का झटका


वाराणसी : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में एक छात्रा ने वीमेन सेफ्टी डिवाइस तैयार किया है। इसमें अंगूठी तथा पर्स है। अगूंठी को ‘मोदी पावर रिंग’ तथा पर्स को मोदी पर्स नाम दिया है। राह चलते छेडख़ानी करने वाले मनचलों एवं चैन स्नेचिंग, पर्स छिनैती करने वालों की अब शामत आने वाली है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘बेटी बचाओ अभियान’ से प्रेरित होकर उनके ही संसदीय क्षेत्र में नई डिवाइस तैयार की गई है। ‘मोदी पावर’ इस तरह की घटनाओं को अंजाम देने वालों को सबक सिखाएगा। जौनपुर केराकत निवासी संजय आर्या की बेटी तथा वाराणसी के निजी इंजीनियरिंग कालेज की छात्रा सुरभि आर्या ने दो डिवाइस तैयार किया है। पर्स व अंगूठी में ‘वीमन सेफ्टी डिवाइस’ बनाया है। छेडख़ानी के दौरान इसके संपर्क में आने वालों को करेंट का जोरदार झटका लगेगा।

सुरभि आर्य मोदी पर्स और रिंग को बनाने पर कहा कि हमारा मकसद था कि समाज में लड़कियों के साथ होने वाली छेडख़ानी की घटनाओं को रोकना। वीमन सेफ्टी डिवाइस पर्स के आगे दो मेटल प्लेट लगी है, इसके संपर्क में आते ही संबंधित को जोरदार करंट का झटका लगेगा हालांकि इससे सामने वालों को बहुत ज्यादा नुकसान नहीं होगा। यह डिवाइस डराने व झटके देने के लिए काफी है, इसका कंट्रोल हाथ ही होगा। पर्स लिए महिला स्वीच को दबाएगी तो पर्स से करंट प्रवाहित होने लगेगा। इसमें चार्जिंग की भी सुविधा है। सुरभि ने बताया कि इस पर्स की कीमत मात्र दो सौ रुपये है। कंप्यूटर साइंस की तृतीय वर्ष की छात्रा सुरभि ने बताया कि डिवाइस युक्त रिंग में कैपेसेटर लगा है। इसमें चार्जिंग स्टोर करने की भी क्षमता होगी। एक बटन भी होगा और किसी हादसे के दौरान बटन दबाने से इसमें से करेंट प्रवाहित होगा। इन डिवाइस को बनाने में मात्र 10 दिन लगा है। इसको संस्थान के अधिकारियों के समक्ष प्रस्तुत किया जाना है।

पुलिस की ओर से इसके लिए फोन आया है। जल्द ही मीटिंग होने वाली है, उम्मीद है कि लड़कियों की सुरक्षा के लिए काफी फायदेमंद होगा। इस पावर रिंग को बैग की स्टील प्लेट से चार्ज करके हम कई दिनों तक रह सकते हैं और इसे हम अपने हाथ में आसानी से पहन सकते हैं। जैसे ही कोई लड़कियों से छेडख़ानी करने की कोशिश करेगा, मोदी पावर रिंग उसे पलक झपकते बेसुध कर सकता है। इससे शोहदों को 440 वोल्ट के करंट का झटका लगेगा। सुरभि आर्य ने बताया कि मैंने वीमेन सेफ्टी डिवाइस बनाया है जो महिलाओं को छेडख़ानी से बचाएगा। इसमें एक स्विच दिया गया है, जिससे हम अपने बैग में लगे मेटल को चार्ज कर सकते हैं। यह चार्ज होने के बाद करंट पैदा करता है। इस रिंग का नाम छात्रा ने ‘मोदी पावर रिंग’ रखा है। कुछ दिन पहले सुरभि अपनी दोस्त के साथ बाजार गई थीं, वहां कुछ मनचलों ने उनके साथ छेडख़ानी की, जिसका उन्होंने विरोध किया, लेकिन किसी ने उनका साथ नहीं दिया। लोग बस उन्हें पुलिस को बुलाने के लिए कहते रहे, उस समय जो असुरक्षा का भाव उसके मन में आया, उसी को प्रेरणा बनाकर उसने इस मोदी पावर रिंग को बनाया।

दो मेटल प्लेट, कैपेसिटर और एक ट्रांसफॉर्मर की मदद से सुरभि ने इस अनोखी डिवाइस को तैयार किया है। यदि किसी लड़की को कोई मनचला छेड़ता है तो उसे बस अपने बैग के हैंडिल में लगे स्विच दबाना है और ये चार्ज हो जायेगा। इसको छूने से छेडख़ानी करने वाले को 440-1000 वोल्ट तक का जोरदार झटका लगेगा। कम्प्यूटर साइंस सेकंड ईयर की छात्रा सुरभि का दावा है कि अगर मुझे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने इस डिवाइस का प्रर्दशन करने का मौका मिलेगा, तो मैं जरूर करुंगी। सुरभि ने कहा कि आज हमारा देश दूसरे देशों से महिलाओं की सुरक्षा के लिए नए उपकरण खरीदता है, उनका कहना है कि हमारे देश में ऐसी प्रतिभाओं की कमी नहीं है जो नए-नए उपकरण बना सकें। उसने मोदी पावर रिंग बनाने के बारे में कहा है कि प्रधानमंत्री के ‘डिजिटल इंडिया’ के सपनों को पूरा करने का यह एक छोटा सा प्रयास है।

  1. देश दुनिया की ताजातरीन सच्ची और अच्छी खबरों को जानने के लिए बनें रहेंhttp://dastaktimes.org/ के साथ।
  2. फेसबुक पर फॉलों करने के लिए https://www.facebook.com/dastaklko
  3. ट्विटर पर पर फॉलों करने के लिए https://twitter.com/TimesDastak
  4. साथ ही देश और प्रदेश की बड़ी और चुनिंदा खबरों केन्यूजवीडियो’ आप देख सकते हैं।
  5. youtube चैनल के लिए https://www.youtube.com/channel/UCtbDhwp70VzIK0HKj7IUN9Q

Related Articles

Back to top button