Business News - व्यापार

सरकार एक दर्जन बैंकों को मार्च के अंत तक देगी 46000 करोड़ रुपये की पूंजी

इस वित्त वर्ष के आखिर तक करीब एक दर्जन सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को 46,101 करोड़ रुपये की पूंजी (इक्विटी कैपिटल) मिलेगी। भारतीय स्टेट बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, सेंट्रल बैंक, यूनियन बैंक और ओरिंटल बैंक ऑफ कॉमर्स ने इस महीने शेयरधारकों की बैठक बुलाई है। इस बैठक में बैंक सरकार से प्रिफरेंशियल शेयर बांटने वाले प्रस्ताव पर मंजूरी की मांग करेंगे।सरकार एक दर्जन बैंकों को मार्च के अंत तक देगी 46000 करोड़ रुपये की पूंजी

इस पूंजी में से सबसे ज्यादा राशि स्टेट बैंक ऑफ इंडिया को मिलेगी। यह राशि 8,800 करोड़ रुपये होगी। एसबीआई के शेयरधारकों की बैठक 15 मार्च को होनी है। वहीं, पंजाब नेशनल बैंक ने शेयर बाजार को बताया है कि शेयरधारकों की असाधारण बैठक 16 मार्च को होगी। बैठक के दौरान 5473 करोड़ मूल्य के प्रिफरेंशियल शेयर्स सरकार को आवंटित करने के संबंध में फैसला लिया जाएगा। इसी तरह विजया बैंक ने इस बैठक को शुक्रवार को बुलाया है। इस बैठक में 1277 करोड़ रुपये मूल्य के प्रिफरेंशियल शेयर सरकार को आवंटित करने को लेकर फैसला लिया जाएगा।

सरकार बैंक ऑफ बड़ौदा को 5375 करोड़ रुपये, सेंट्रल बैंक को 4835 करोड़ रुपये, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया को 4524 करोड़ रुपये और ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (ओबीसी) को 3571 करोड़ रुपये देगी। इसके साथ ही देना बैंक को 3045 करोड़ रुपये, सिंडिकेट बैंक 2839 करोड़ रुपये और कॉरपोरेशन बैंक को 2187 करोड़ रुपये की शेयर पूंजी दी जाएगी।

सरकार की ओर से बैंक ऑफ बड़ौदा को 5375 करोड़ रुपये, सेंट्रल बैंक को 4835 करोड़ रुपये, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया को 4524 करोड़ रुपये, ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स को 3571 करोड़ रुपये, देना बैंक 3045 करोड़ रुपये, सिंडिकेट बैंक 2839 करोड़ रुपये और कॉरपोरेशन बैंक को 2187 करोड़ रुपये की शेयर पूंजी मिलेगी।

Unique Visitors

13,063,324
नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया Dastak Times के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...

Related Articles

Back to top button