Crime News - अपराधNational News - राष्ट्रीयअजब-गजबदिल्लीफीचर्ड

स्कूल के बाहर धरने पर बैठे मृतक छात्रा के मां-बाप, सीबीआई जांच की मांग


नई दिल्ली : दिल्ली के मयूर विहार फेस 1 के एल्कॉन पब्लिक स्कूल में 9वीं क्लास की छात्रा की आत्महत्या के बाद मृतक छात्रा के माता-पिता आज स्कूल के बाहर धरने पर बैठ गए हैं। इंसाफ की गुहार लगाते मां-बाप की मांग है कि इस केस की सीबीआई जांच की जानी चाहिए।
छात्रा के माता-पिता के अलावा और बच्चों के पैरेंट्स भी स्कूल के बाहर सड़क पर प्रदर्शन कर रहे हैं। हाथ में बैनर लिए जस्टिस की मांग करते हुए परिवार वालों की मांग है कि स्कूल की मान्यता भी रद्द की जाए। वहीं गुस्साए परिजनों का आरोप है कि इस मामले के सामने आने के बाद भी स्कूल की तरफ से ना कोई टीचर, ना मैंनेजमेंट का कोई शख्स, कोई भी उनसे बात करने नहीं आया है। इतना प्रदर्शन करने बाद भी कोई उनकी बात नहीं सुन रहा है। हम चाहते हैं कि हमारी बेटी का न्याय मिले। गौरतलब है कि बुधवार को एल्कॉन पब्लिक स्कूल की 9 क्लास में पढऩे वाली छात्रा की खुदकुशी का मामला सामने आया था। पीड़ित छात्रा के परिवार की शिकायत पर पुलिस ने प्रिंसिपल और दो टीचर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।नोएडा सेक्टर 24 के थानाध्यक्ष अखिलेश त्रिपाठी ने कहा, पैरेन्ट्स की तरफ से मिली शिकायत के बाद हमने दो आरोपी टीचर्स के खिलाफ सुसाइड के लिए उकसाने, आपराधिक कृत्य और यौन उत्पीड़न के चलते भारतीय दंड संहिता की धारा 306, 506 और 354 के तहत केस दर्ज किया है।
मामला मीडिया में आते ही नोएडा के एसएसपी ने जांच अधिकारी को सस्पेंड कर दिया। नोएडा सेक्टर 24 के एसएचओ अखिलेश त्रिपाठी ने बताया कि कॉन्स्टेबल क्लर्क निरपेंदर को गलत IPC धाराओं के तहत केस दर्ज करने के चलते निलंबित किया गया है। पीड़ित छात्रा की पिता का कहना है कि उसे स्कूल के दो शिक्षक लगातार यौन उत्पीड़न कर रहे थे और परीक्षा में फेल होने की धमकी दी थी उसने हमें बताया कि SST के टीचर ने उसे गलत तरीके से छूआ था। क्योंकि मैं खुद भी एक टीचर हूं मैंने उसे कहा कि हो सकता है गलती से टीचर ने तुम्हें छूआ हो। लेकिन उसने कहा कि वो बहुत डरी हुई है वो परीक्षा में कितना भी अच्छा लिखेगी वो लोग उसे फेल कर देंगे। और आखिर में उसे SST में फेल ही कर दिया गया। जिसके बाद वो इतने दबाव में आ गई कि उसने जान दे दी।

Related Articles

Back to top button